अगले साल से बिना ड्राइवर के दौड़ेगी मेट्रो

नई दिल्ली : दिल्ली में अगले साल तक बिना ड्राइवर के मेट्रो दौड़ती हुई नजर आएगी। दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन मई 2020 तक मजेंटा और पिंक लाइन को अपडेट कर पूरी तरह से ड्राइवर लैस तरीके से दौड़ाने का प्रयास कर रही है। मेट्रो के वरिष्ठ अधिकारी की माने तो सिंगापुर की एक कंपनी शॉर्ट टर्म रिव्यू कर रही है। हालांकि डीएमआरसी अपने स्तर पर एक और कंसलटेंट एजेंसी की तलाश कर रही है जो लंबे समय तक रिव्यू कर रिपोर्ट देगी। 

इस रिपोर्ट के दौरान सुधार के प्रयास किए जाएंगे। बता दें कि वर्तमान में मजेंटा लाइन और पिंक लाइन को अन्य मेट्रो की तरह सामान्य तरीके से चलाया जा रहा है। लेकिन आने वाले दिनों में धीरे धीरे इन ड्राइवरों को हटाकर पूरी तरह से ड्राइवर लैस मेट्रो चलाया जाएगा। बता दें कि इससे पहले मजलिस पार्क से शिव विहार तक, जनकपुरी वेस्ट से बॉटनिकल गार्डन तक ड्राइवर लेस चलाने का फैसला लिया था। 

ड्राइवर का केबिन नहीं होगा
इस मेट्रो ट्रेन में ड्राइवर के लिए केबिन नहीं होगा जिससे आम मेट्रो के डिब्बे की अपेक्षा करीब ढाई सौ लोग ज्यादा आ सकेंगे। इस मेट्रो ट्रेन में छह डिब्बे होंगे और करीब 2280 लोग इसमें सफर कर सकते हैं। यही नहीं इस ट्रेन में और भी खासियत हैं। मसलन ओवर हेड में खराबी की वजह से मेट्रो की चाल सुस्त होने की समस्या नहीं होगी। नई मेट्रो ट्रेन में अब इस तरह की खराबी नहीं आएगी।
Tags : ,Metro