टी-20 इंटरनेशनल से मिताली राज ने लिया संन्यास, 2021 वनडे वर्ल्ड कप पर निगाहें

मंगलवार को भारतीय महिला वनडे टीम की पूर्व कप्तान मिताली राज ने इंटरनेशनल टी20 क्रिकेट से संन्यास का फैसला कर लिया है। उन्होंने कहा है कि 2021 में 50 ओवरों के विश्वकप पर पूरे तरीके से फोकस कर सकें इसलिए उन्होंने यह फैसला किया है। 


टी20 क्रिकेट में 36 साल की मिताली ने 32 मैचों में कप्तानी की है और उसमें 2012, 2014 और 2016 के टी20 विश्व कप में भी कप्तानी की थी। संन्यास के फैसले पर मिताली राज ने कहा कि, 2006 से टी20 इंटरनेशनल क्रिकेट में भारत का प्रतिनिधित्व करने के बाद अब मैं इस प्रारूप से संन्यास ले रही हूं, ताकि 2021 वनडे विश्व कप पर ध्यान केंद्रीत कर सकूं।
 
भारत के लिए टी20 क्रिकेट में मिताली राज ने 89 मैच खेलते हुए सर्वाधिक 2364 रन बनाए हैं। टी20 में मिताली का बेस्ट स्कोर नाबाद 97 रन का है। इंग्लैंड के खिलाफ गुवाहाटी में साल 1999 में मिताली ने टी20 क्रिकेट में डेब्यू किया था। टी20 क्रिकेट में मिताली राज ने 2000 रन बनाए हैं जिसके साथ ही वह पहली भारतीय महिला क्रिकेटर भी बन गई हैं। 


भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड द्वारा जारी विज्ञप्ति में मिताली राज ने कहा कि, देश के लिए विश्व कप जीतना मेरा सपना है और मैं अपना सर्वश्रेष्ठ करना चाहती हूं। मैं बीसीसीआई को लगातार सहयोग के लिए धन्यवाद देती हूं और साउथ अफ्रीका के खिलाफ आगामी सीरीज के लिए भारतीय टी20 टीम को शुभकामना देती हूं। 

वनडे क्रिकेट की बात करें तो मिताली राज ने 203 मैचों में 6720 रन बनाए हैं। टेस्ट क्रिकेट में मिताली राज ने 10 मैचों में एक शतक सहित 663 रन बनाए हैं। 

Tags : पटना,Patna,law,Ravi Shankar Prasad,Union Minister,Dalit,Punjab Kesari ,Mithali Raj,T20 International,World Cup