+

पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोपों के चलते विधायक धनवेलू कांग्रेस से निलंबित

"धनवेलू की पार्टी विरोधी गतिविधियों के बारे में" कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अवगत कराने के बाद नमास्सिवायम मुख्यमंत्री वी नारायणसामी के साथ बुधवार को दिल्ली से लौटे थे।
पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के आरोपों के चलते विधायक धनवेलू कांग्रेस से निलंबित
पुडुचेरी में कांग्रेस के बागी विधायक एन धनवेलू को ‘पार्टी विरोधी गतिविधियों’ में शामिल होने के आरोपों के कारण पार्टी से गुरुवार को निलंबित कर दिया गया। पीडब्ल्यूडी मंत्री और पीसीसी अध्यक्ष ए नमास्सिवायम ने आनन फानन में बुलाए गए एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि धनवेलू ‘पार्टी विरोधी गतिविधियों’ में शामिल थे और उन्होंने पार्टी अनुशासन के मूलभूत सिद्धांतों का उल्लंघन किया। 
उन्होंने कहा कि विधायक को ‘तत्काल प्रभाव’ से निलंबित किया जाता है। ‘‘धनवेलू की पार्टी विरोधी गतिविधियों के बारे में’’ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी को अवगत कराने के बाद नमास्सिवायम मुख्यमंत्री वी नारायणसामी के साथ बुधवार को दिल्ली से लौटे थे। 

अधीर रंजन का मोदी और शाह पर हमला, बोले-हिंदुस्तान किसी के बाप की संपत्ति नहीं

पीसीसी नेता ने कहा, ‘‘आला कमान की सिफारिश पर धनवेलू को निलंबित किया गया है।’’ उन्होंने कहा कि धनवेलू को कारण बताओ नोटिस जारी करके उनसे अपना जवाब देने को कहा जाएगा जिसके बाद पार्टी की अनुशासन समिति आगे की कार्रवाई करेगी। धनवेलू को कारण बताओ नोटिस का जवाब एक सप्ताह में देने को कहा गया है। 
नमास्सिवायम ने आरोप लगाया कि धनवेलू विपक्षी एआईएनआरसी और भाजपा के साथ मिलकर कांग्रेस सरकार को गिराने की कोशिश कर रहे थे। धनवेलू ने केंद्र शासित प्रदेश में कांग्रेस सरकार पर हाल में गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने उपराज्यपाल किरण बेदी से भी उनके कार्यालय में मुलाकात की थी और उन्हें मुख्यमंत्री एवं उनके कैबिनेट सहयोगियों के कथित ‘‘भ्रष्टाचार और घोटालों’’ के बारे में बताया था। 
संवाददाता सम्मेलन में मौजूद मुख्यमंत्री से जब यह पूछा गया कि क्या धनवेलू को विधायक के तौर पर अयोग्य करार दिया जाएगा, उन्होंने कहा, ‘‘धनवेलू को भेजे गए कारण बताओ नोटिस का जवाब आने का इंतजार कीजिए।’’ 
facebook twitter