+

आरआर नगर से जद-एस के 240 से अधिक नेता, कार्यकर्ता कांग्रेस में हुए शामिल

कर्नाटक में जद-एस को शुक्रवार को तब झटका लगा जब शहर में राजराजेश्वरी नगर विधानसभा क्षेत्र से 240 से अधिक पार्टी नेता एवं कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल हो गए। राजराजेश्वरी नगर विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है।
आरआर नगर से जद-एस के 240 से अधिक नेता, कार्यकर्ता कांग्रेस में हुए शामिल
कर्नाटक में जद-एस को शुक्रवार को तब झटका लगा जब शहर में राजराजेश्वरी नगर विधानसभा क्षेत्र से 240 से अधिक पार्टी नेता एवं कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल हो गए। राजराजेश्वरी नगर विधानसभा सीट पर उपचुनाव होना है। 
कांग्रेस प्रदेश इकाई के प्रमुख डी के शिवकुमार, उनके भाई एवं बेंगलुरु ग्रामीण सीट से सांसद डी के सुरेश की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल होने वालों में जद-एस राजराजेश्वरी नगर इकाई अध्यक्ष बेत्तास्वामी गौड़ा शामिल हैं, जो तीन नवंबर को होने वाला उपचुनाव लड़ना चाहते थे। 
गौड़ा आरआर नगर से टिकट के लिए जदएस द्वारा चुने गए तीन संभावितों में शामिल थे लेकिन अंतत: कृष्णमूर्ति वी को पार्टी का आधिकारिक उम्मीदवार तय किया गया। 
जदएस विधायक दल के नेता एच डी कुमारस्वामी ने कृष्णमूर्ति के नाम की हाल ही में घोषणा करते हुए कहा था कि उनका नाम सर्वसम्मति से बी गौड़ा और जदएस बेंगलुरु इकाई के अध्यक्ष आर प्रकाश के बीच सहमति के बाद सर्वसम्मति से तय किया गया। 
शिवकुमार ने कहा, ‘‘240 से अधिक नेता और कार्यकर्ता हमारे साथ जुड़ने के लिए यहां आए हैं...आरआर नगर क्षेत्र के लिए आज एक ऐतिहासिक दिन है....।’’ 
उन्होंने उनका पार्टी में स्वागत करने के बाद संवाददाताओं से कहा कि वे बिना किसी शर्त के एक राष्ट्रीय पार्टी में अपनी पहचान बनाने के इरादे से कांग्रेस में शामिल हुए हैं। 
कुमारस्वामी ने बृहस्पतिवार को आरोप लगाया था कि कांग्रेस के पास राजराजेश्वरी नगर निर्वाचन क्षेत्र में कार्यकर्ता आधार नहीं है और वह उपचुनाव से पहले उनके पार्टी कार्यकर्ताओं को लुभाने की कोशिश कर रही है। 
शिवकुमार ने इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए आज दिन में कहा था कि प्रतिद्वंद्वी दलों के लोगों को शामिल करना और उनके वोटों को आकर्षित करना ‘‘चुनाव के समय की राजनीति है।’’ 
राजराजेश्वरी नगर (आरआर नगर) और तुमकुरु में सिरा विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव तीन नवंबर को होना है। 
पिछले साल दलबदल विरोधी कानून के तहत तत्कालीन कांग्रेस विधायक एन मुनिरत्ना की अयोग्यता के बाद आरआर नगर सीट खाली होने से इस पर उपचुनाव जरूरी हो गया था। 
कांग्रेस ने कुसुमा एच को चुनाव मैदान में उतारा है। वह दिवंगत आईएएस अधिकारी डी के रवि की पत्नी और जदएस के पूर्व नेता हनुमंतरायप्पा की बेटी हैं। दोनों हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए थे। 
कुसुमा एच को जदएस के कृष्णमूर्ति और भाजपा के एन मुनिरत्ना के खिलाफ मैदान में उतारा गया है। 
मुनिरत्ना गत वर्ष अयोग्य ठहराये जाने के बाद भाजपा में शामिल हो गए थे। 
facebook twitter instagram