+

नरेंद्र मोदी स्टेडियम के नाम से जाना जायेगा मोटेरा स्टेडियम, अमित शाह ने खासियतें बताते हुए किये ये ऐलान

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को दुनिया के सबसे बड़े और अत्याधुनिक नव सज्जित सरदार पटेल क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन किया जिसका नाम अब देश के प्रधानमंत्री के नाम पर नरेंद्र मोदी स्टेडियम होगा ।
नरेंद्र मोदी स्टेडियम के नाम से जाना जायेगा मोटेरा स्टेडियम, अमित शाह ने खासियतें बताते हुए किये ये ऐलान
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बुधवार को दुनिया के सबसे बड़े और अत्याधुनिक नव सज्जित सरदार पटेल क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन किया जिसका नाम अब देश के प्रधानमंत्री के नाम पर नरेंद्र मोदी स्टेडियम होगा । 
इस स्टेडियम में एक लाख 32 हजार दर्शक बैठ सकते हैं । राष्ट्रपति ने उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में कहा ,‘‘ इस स्टेडियम की परिकल्पना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की थी जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे । वह उस समय गुजरात क्रिकेट संघ के अध्यक्ष थे । यह स्टेडियम पर्यावरण के अनुकूल विकास का एक उदाहरण है ।’’ 
राष्ट्रपति ने गृहमंत्री अमित शाह और खेलमंत्री किरेन रीजीजू समेत कई विशिष्ट अतिथियों की मौजूदगी में स्टेडियम का उद्घाटन किया । यहां भारत और इंग्लैंड के बीच बुधवार से दिन रात का तीसरा और चार मार्च से चौथा टेस्ट खेला जाना है।
शाह ने उद्घाटन के बाद कहा ,‘‘ हमने इसका नामकरण देश के प्रधानमंत्री के नाम पर करने का फैसला किया है। यह मोदीजी का ड्रीम प्रोजेक्ट था । आज भारत के खेल जगत का स्वर्णिम दिन है। आज भारत के राष्ट्रपति जी के कर-कमलों से लौह पुरुष भारत रत्न सरदार पटेल जी के नाम से जोड़कर एक बड़े स्पोर्ट्स एन्क्लेव का भूमि पूजन हुआ है। 
गृहमंत्री अमित शाह ने आगे कहा , "स्पोर्ट्स एंक्लेव में विश्व की सभी खेलों की व्यवस्था यहां होगी। देश और दुनिया के सभी खेलों के सभी खिलाड़ियों की ट्रेनिंग और रहने की व्यवस्था यहां होगी।3,000 बच्चों के एक साथ खेलने और रहने की व्यवस्था यहां होगी।"
अमित शाह ने कहा , "सरदार पटेल स्पोर्ट्स एनक्लेव, नरेन्द्र मोदी स्टेडियम और नारायणपुरा में बनने वाला स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स ये तीनों मिलाकर किसी भी अंतरराष्ट्रीय स्पर्धा में खेलने वाले सभी खेलों को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने की पूरी व्यवस्था एक ही शहर में एक ही स्थान पर होगी।"
शाह ने आगे कहा, " हमारे देश को जरूरत है कि हमारे देश के युवा अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में दिखाई दें और मेडल जीतें।मोदी जी ने इस स्पोर्ट्स एन्क्लेन को बनाकर इस क्षेत्र को बहुत बड़ा उपहार दिया है।  मैं नरेंद्र मोदी के साथ लंबे वक्त से काम कर रहा हूं, उन्होंने हमेशा युवाओं को खेल के लिए प्रोत्साहित किया है।  खेलो इंडिया योजना के तहत इसी विजन को गांव-गांव तक पहुंचाया जा रहा है।"
उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे विश्वास है कि इससे खिलाड़ियों को बेहतर प्रदर्शन में मदद मिलेगी । हमारे कई खिलाड़ी कठिनाइयों का सामना करके छोटे शहरों से आते हैं । जीसीए ने जिन खिलाड़ियों को प्रोत्साहन दिया है , उनमें आज के लोकप्रिय नाम जसप्रीत बुमराह और अक्षर पटेल शामिल हैं ।’’ 
प्रेस सूचना ब्यूरो द्वारा जारी सूचना में कहा गया ,‘‘ यह ओलंपिक आकार के 32 फुटबॉल स्टेडियमों के बराबर का है ।’’ इस मैदान को 2015 में नवीनीकरण के लिये बंद कर दिया गया था । यह क्रिकेट के इतिहास के कई गौरवशाली पलों का साक्षी रहा है । करीब 63 एकड़ से अधिक परिसर में फैले इस स्टेडियम की दर्शक क्षमता एक लाख 32 हजार है और इस पर 800 करोड़ रूपये खर्च किये गए हैं । इससे पहले मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड सबसे बड़ा स्टेडियम था जिसकी दर्शक क्षमता 90000 है। 
इसमें सुनील गावस्कर का 1987 में 10000 टेस्ट रन पूरे करना और कपिल देव का 432 टेस्ट विकेट लेकर 1994 में सर रिचर्ड हैडली का रिकॉर्ड तोड़ते हुए सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाला गेंदबाज बनना शामिल है । 
facebook twitter instagram