+

रक्षा सहयोग पर एमओयू से भारत-मिस्र संबंध ऐतिहासिक ऊंचाइयों पर पहुंचेंगे : राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी मिस्र यात्रा को 'बेहद फायदेमंद' करार देते हुए बुधवार को विश्वास जताया कि दोनों पक्षों के बीच रक्षा सहयोग पर समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर के साथ भारत-मिस्र की साझेदारी ऐतिहासिक ऊंचाइयों पर पहुंच जाएगी। राजनाथ सिंह रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण अरब देश के तीन दिवसीय दौरे पर यहां आए थे ।
रक्षा सहयोग पर एमओयू से भारत-मिस्र संबंध ऐतिहासिक ऊंचाइयों पर पहुंचेंगे : राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपनी मिस्र यात्रा को 'बेहद फायदेमंद' करार देते हुए बुधवार को विश्वास जताया कि दोनों पक्षों के बीच रक्षा सहयोग पर समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर के साथ भारत-मिस्र की साझेदारी ऐतिहासिक ऊंचाइयों पर पहुंच जाएगी। राजनाथ सिंह रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण अरब देश के तीन दिवसीय दौरे पर यहां आए थे ।
उन्होंने बुधवार को ट्वीट किया, ‘‘मिस्र की अत्यंत लाभप्रद यात्रा हाल में समाप्त हुई। मैं राष्ट्रपति अब्दुल फतह अल-सीसी और मेरे समकक्ष जनरल (मोहम्मद) जकी को गर्मजोशी से स्वागत करने और व्यापक चर्चा के लिए शुक्रिया अदा करता हूं। मुझे विश्वास है कि रक्षा सहयोग पर सहमति-पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर होने से हमारी साझेदारी ऐतिहासिक ऊंचाइयों पर पहुंचेगी।’’
सिंह ने मेजबान देश के अधिकारियों से विदा लेते हुए अपनी कुछ तस्वीरें भी साझा कीं। इस यात्रा के दौरान दोनों देशों ने द्विपक्षीय रक्षा सहयोग को और विस्तार देने के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किये तथा संयुक्त अभ्यास बढ़ाने पर आम-सहमति व्यक्त की।
सिंह ने सोमवार को मिस्र के रक्षा मंत्री जनरल मोहम्मद जकी से व्यापक चर्चा की थी
उन्होंने मंगलवार को ट्वीट किया था, ‘‘मिस्र के रक्षा मंत्री जनरल मोहम्मद जकी के साथ काहिरा में शानदार मुलाकात हुई। द्विपक्षीय रक्षा संबंधों को और विस्तारित करने के लिए कई पहल पर हमने व्यापक चर्चा की।’’ रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को एक बयान में कहा था कि दोनों पक्षों ने रक्षा संबंधों को मजबूत करने के कदमों पर चर्चा की और संयुक्त अभ्यास, प्रशिक्षण के लिए कर्मियों के आदान-प्रदान, विशेष रूप से आतंकवाद विरोधी कार्रवाई के क्षेत्र में सहयोग को बढ़ाने के संबंध में आम सहमति पर पहुंचे।

facebook twitter instagram