+

वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए से हुई मुख्तार अंसारी की कोर्ट में हुई पेशी

पंजाब की रोपड़ जेल से पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के बांदा कारागार लाए गए बसपा के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को मंगलवार को गैंगस्टर एक्ट के एक मामले में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मऊ की विशेष दंडाधिकारी अदालत में पेश किया गया।
वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए से हुई मुख्तार अंसारी की कोर्ट में हुई पेशी
पंजाब की रोपड़ जेल से पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के बांदा कारागार लाए गए बसपा के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को मंगलवार को गैंगस्टर एक्ट के एक मामले में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मऊ की विशेष दंडाधिकारी अदालत में पेश किया गया।
विशेष अभियोजन अधिकारी कृष्ण शरण सिंह ने बताया कि अंसारी को मऊ जिले के दक्षिण टोला थाने में गैंगस्टर एक्स के तहत दर्ज के एक मुकदमे के सिलसिले में प्रभारी विशेष दंडाधिकारी रामराज की अदालत में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए पेश किया गया। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई की तारीख 11 जून नियत की है।
सिंह ने बताया कि मुख्तार और उनके वकील दरोगा सिंह ने बांदा जेल में विधायक को मिल रही सुविधाएं बढ़ाने की मांग की जिस पर अदालत ने उन्हें जेल मैनुअल के अनुसार सुविधाएं उपलब्ध कराने का आदेश दिया। मुख्तार के वकील दरोगा सिंह ने बताया कि वादी पक्ष चाहता था कि मुख्तार को बांदा जेल से लाकर मऊ की अदालत में पेश किया जाए लेकिन उच्चतम न्यायालय की व्यवस्था का हवाला देते हुए उन्होंने अदालत में वर्चुअल सुनवाई के लिए अर्जी दी।
इसके बाद अदालत ने भी इस पर हामी भर दी। सिंह ने बताया कि मुख्तार ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि उन्हें हॉट बेल्ट और तख्त तथा कुर्सी भी मुहैया कराई जाए।
डॉक्टर ने उन्हें फिजियोथेरेपी कराने की सलाह दी है लेकिन जब से वह बांदा जेल आए हैं तब से उनके लिए ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की जा रही है। बहरहाल, अदालत ने मुख्तार को जेल मैनुअल के हिसाब से सुविधाएं देने का आदेश दिया।
facebook twitter instagram