+

शोषित एवं वंचित वर्गों की आवाज थे मुंशी प्रेमचंद :रेणु देवी

शोषित एवं वंचित वर्गों की आवाज थे मुंशी प्रेमचंद :रेणु देवी
पटना: उपन्यास सम्राट मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर उन्हें याद करते हुए उपमुख्यमंत्री रेणु देवी ने  अपना श्रद्धा सुमन अर्पित किया तथा कहा कि प्रेमचंद की रचनाओं में जन साधारण की भावनाओं,परिस्थितियों एवं समस्याओं का अत्यंत सजीव एवं मार्मिक चित्रण मिलता है, और यही कारण है कि उनकी रचनाएं आज भी लोकप्रिय होने के साथ साथ प्रासंगिक भी हैं।

उन्होंने आगे कहा कि प्रेमचंद ने अपनी रचनाओं के माध्यम से शोषित एवं वंचित वर्ग के लोगों की आवाज उठाने का हरसंभव प्रयास किया है तथा देश के स्वतंत्रता आंदोलन में भी अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। 

रेणु देवी ने पुनः कहा कि प्रेमचंद आडंबर और दिखावे से दूर रहते हुए एक बहुत ही सरल एवं उदार व्यक्ति थे। उनका महान जीवन सभी के लिए प्रेरणा का स्त्रोत है।
facebook twitter instagram