कूड़ा फेंकने को लेकर हत्या

पूर्वी दिल्ली : शाहदरा डिस्ट्रिक्ट के गांधी नगर इलाके में घर के बाहर कूड़ा फेंकने के आरोप को लेकर शुरू हुए झगड़े में एक शख्स की उसके घर के अंदर घुसकर चाकू-कैंची से गोदकर हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान अब्दुल साजिद (29) के तौर पर हुई है। हमले में मृतक के दो भाई आबिद व सलमान भी घायल हुए हैं। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिया है। साथ ही हत्या का केस दर्ज कर एक आरोपी आसिफ अली उर्फ शब्बू (40) को गिरफ्तार कर​ लिया है। हालांकि वारदात में शामिल उसका बड़ा भाई अफसर अली उर्फ काले अभी फरार है। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है। 

पुलिस के मुताबिक, साजिद परिवार सहित पुराने सीलमपुर की नानक बस्ती में रहता था। परिवार में पिता अब्दुल जाहिद, मां नूरजहां, तीन भाई अब्दुल आहिद, सलमान और आबिद के अलावा इसकी पत्नी रुखसार वारसी और ढाई साल की बेटी आयशा है। साजिद गांधी नगर में ही एक गारमेंट फैक्ट्री में मैनेजर था। पड़ोस में शब्बू और काले परिवार सहित रहते हैं। शनिवार दोपहर के समय किसी ने शब्बू के घर के बाहर कूड़ा डाल दिया। इसी बात पर शब्बू और उसकी मां नसीमा साजिद के भतीजे अजहर (8) को डांटने लगे। बच्ची की दादी ने डांटने का विरोध किया तो शब्बू बच्चे व नूरजहां के साथ गाली गलौज  करने लगा। इस बीच आबिद वहां पहुंच गया उसने शब्बू को गाली देने से रोका। 

आबिद ने कहा कि कूड़ा उन्होंने नहीं डाला है। लड़ाई झगड़े के दौरान शब्बू कैंची लेकर आबिद पर हमला करने लगा तो लोगों ने बीच-बचाव करा दिया। इधर, नूरजहां बेटे आबिद और सलमान के साथ सीमापुरी चली गई। शाम करीब 8.10 बजे तीनों सीमापुरी से वापस पहुंचे तो गली में शब्बू व उसका भाई काले मौजूद थे। आते ही उन्होंने आबिद और सलमान पर हमला कर दिया। दोनों भागकर घर में घुसे तो शब्बू व काले चाकू व कैंची लेकर उनके घर में घुस गए। दोनों ने आबिद व सलमान पर हमला किया। 

इस बीच साजिद वहां पहुंचा और वह शब्बू व काले को घर से बाहर निकालकर दरवाजा बंद करने लगा। इसी दौरान शब्बू ने साजिद के पेट व छाती में चाकू के कई वारकर फरार हो गए। परिजन घायल आबिद, सलमान और साजिद को नजदीकी अस्पताल ले गए, जहां से साजिद को हेडगेवार अस्पताल रेफर कर दिया गया। वहां साजिद को मृत घोषित कर दिया गया। जबकि सलमान और आबिद को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई।
Tags :