+

नाना पटोले का दावा, राज्यसभा चुनाव में MVA के चारों उम्मीदवार हासिल करेंगे जीत

नाना पटोले ने दावा किया कि राज्य में सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी (एमवीए) के सभी चार उम्मीदवार आगामी राज्यसभा चुनाव में जीत दर्ज करेंगे।
नाना पटोले का दावा, राज्यसभा चुनाव में MVA के चारों उम्मीदवार हासिल करेंगे जीत
देश में इन दिनों राज्यसभा चुनावों को लेकर हलचल मची हुई है। 15 राज्यों की 57 राज्यसभा सीटों पर 10 जून को मतदान होना है। इस बीच महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने दावा किया कि राज्य में सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी (एमवीए) के सभी चार उम्मीदवार आगामी राज्यसभा चुनाव में जीत दर्ज करेंगे। कांग्रेस पार्टी महाराष्ट्र के सत्तारूढ़ एमवीए गठबंधन का एक घटक दल है, जिसमें शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) भी शामिल हैं।
एमवीए ने चार उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है, जबकि विपक्षी बीजेपी ने अपने तीन नेताओं को राज्यसभा चुनाव के लिए नामित किया है। शिरडी में संवाददाताओं से बात करते हुए नाना पटोले ने उत्तर प्रदेश के निवासी और पार्टी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रमुख इमरान प्रतापगढ़ी की उम्मीदवारी को लेकर कांग्रेस के भीतर असंतोष पर पूछे गए सवालों को टाल दिया।

अनिल देशमुख को राहत, जमानत याचिका पर जल्द सुनवाई के लिए अर्जी दाखिल करने की मिली अनुमति

पटोले ने कहा, “ मैंने इमरान प्रतापगढ़ी द्वारा नामांकन दाखिल करने के दिन ही कहा था कि एमवीए के सभी चारों उम्मीदवार विजयी होंगे। हमारे पास पर्याप्त संख्याबल मौजूद है।” कांग्रेस ने पिछले महीने राजस्थान के उदयपुर शहर में आयोजित पार्टी के 'चिंतन शिविर' की तर्ज पर बुधवार को महाराष्ट्र के शिरडी में 'नव संकल्प कार्यशाला' की शुरुआत की।
दरअसल, इमरान प्रतापगढ़ी को चुनाव मैदान में उतारने के कांग्रेस के फैसले से पार्टी के भीतर ही असंतोष है। प्रतापगढ़ी महाराष्ट्र से नहीं हैं। प्रतापगढ़ी की उम्मीदवारी के विरोध में कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के महासचिव आशीष देशमुख ने इस्तीफा दे दिया था।
राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने महाराष्ट्र से मुकुल वासनिक को उम्मीदवार बनाए जाने का सुझाव दिया था। मुकुल वासनिक राजस्थान से चुनाव लड़ रहे हैं। कुछ नेताओं ने ट्विटर पर पार्टी के फैसले पर नाराजगी व्यक्त की थी। पटोले ने कहा कि कांग्रेस के भीतर लोकतंत्र है और उसी के तहत यह फैसला लिया गया।
उन्होंने यह भी कहा कि उदयपुर में चिंतन शिविर के दौरान लिए गए 'एक व्यक्ति एक पद' के पार्टी के फैसले का पालन करते हुए 40-50 पदाधिकारियों ने कांग्रेस के विभिन्न पदों से इस्तीफा दे दिया है। शिवसेना ने संजय राउत और संजय पवार को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। जबकि बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, वरिष्ठ नेता अनिल बोंडे और धनंजय महादिक को चुनाव मैदान में उतारने की घोषणा की है।

होम :
facebook twitter instagram