+

भारत में आत्मघाती हमले की धमकी पर बोले नरोत्तम मिश्रा, अल-कायदा को अपने दायरे में रहना चाहिए

पूर्व बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मुहम्मद पर 'आपत्तिजनक' टिप्पणियों से उत्पन्न विवाद के मद्देनजर अलकायदा की ओर से भारत में आत्मघाती हमलों की धमकी दी गई है।
भारत में आत्मघाती हमले की धमकी पर बोले नरोत्तम मिश्रा, अल-कायदा को अपने दायरे में रहना चाहिए
बीजेपी नेताओं द्वारा पैगंबर मुहम्मद पर की गई टिप्पणी को लेकर आतंकवादी संगठन अल-कायदा ने भारत में आत्मघाती हमले करने की धमकी दी है। आतंकी संगठन की धमकी पर मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने  कहा कि भारत पर हमला करने की सोच रखने वालों को पता होना चाहिए कि उन्हें मिटा दिया जाएगा।
पूर्व बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मुहम्मद पर 'आपत्तिजनक' टिप्पणियों से उत्पन्न विवाद के मद्देनजर अलकायदा की ओर से धमकी दी गई है। उसने आधिकारिक तौर पर धमकी दी कि वह गुजरात, यूपी, बॉम्बे और दिल्ली में आत्मघाती हमने करने के लिए तैयार है। साथ ही उसने कहा कि जल्द ही बीजेपी का अंत होगा। 
नरोत्तम मिश्रा ने इंदौर में पत्रकारों से बात करते हुए कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश सुरक्षित है। भारत पर हमला करने की सोच रखने वालों को पता होना चाहिए कि उन्हें मिटा दिया जाएगा।" उन्होंने कहा, "अल-कायदा को अपने दायरे में रहना चाहिए। अगर वह भारत पर हमला करने के बारे में सोच रहा है, तो उसे खत्म कर दिया जाएगा।"

पैगंबर मामले में अलकायदा ने दी भारत में आत्मघाती हमले की धमकी, दिल्ली-मुंबई-यूपी और गुजरात होंगे टार्गेट

अल-कायदा ने एक धमकी भरे पत्र में लिखा है कि अपने पैगंबर मुहम्मद के सम्मान के लिए वे दिल्ली, मुंबई, उत्तर प्रदेश और गुजरात में आत्मघाती हमलों के लिए तैयार हैं। धमकी भरे बयान में कहा गया है कि 'भगवा आतंकवादियों' को अब दिल्ली, मुंबई, यूपी और गुजरात में अपने अंत का इंतजार करना चाहिए।
पत्र में कहा गया है कि वे न तो अपने घरों में और न ही अपनी किलाबंद सेना की छावनियों में शरण पाएंगे। इसने कहा कि दुनिया भर के मुसलमानों के दिलों से खून बह रहा है और वे बदले और प्रतिशोध की भावनाओं से भरे हुए हैं। नुपुर शर्मा ने कथित तौर पर पैगंबर मुहम्मद के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी की थी जिसके बाद उन्हें पार्टी ने निलंबित कर दिया था। उनके द्वारा दिए गए 'विवादास्पद' बयान ने एक अंतरराष्ट्रीय हंगामा खड़ा कर दिया है। 
अफगानिस्तान, पाकिस्तान, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, कतर, कुवैत, बहरीन, इंडोनेशिया और ईरान सहित कई मुस्लिम देशों के साथ-साथ इस्लामिक सहयोग संगठन ने आधिकारिक तौर पर बयान का विरोध किया है और माफी की मांग की है।

facebook twitter instagram