दिल्ली में सात संसदीय सीटों के लिए बृहस्पतिवार को होगी मतगणना, सुरक्षा व्यवस्था कड़ी

राष्ट्रीय राजधानी में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच बृहस्पतिवार को मतों की गिनती होगी जिसमें लोकसभा चुनाव में खड़े 164 प्रत्याशियों के चुनावी भाग्य का फैसला होगा। दिल्ली में लोकसभा की सात सीटों पर भाजपा, कांग्रेस और आप के बीच तिकोणीय मुकाबला माना जा रहा है। इस चुनाव में दिल्ली के तकरीबन 1.43 करोड़ मतदाताओं में से 60.21 प्रतिशत ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

चुनाव में उतरे प्रमुख प्रत्याशियों में दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित, केन्द्रीय मंत्री हर्षवर्द्धन और क्रिकेटर से राजनेता बने गौतम गंभीर शामिल हैं। उत्तर पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र से शीला दीक्षित के खिलाफ भाजपा सांसद मनोज तिवारी खड़े हैं।

इसके अलावा भाजपा की मौजूदा सांसद मीनाक्षी लेखी, ओलंपियन बॉक्सर विजेंदर सिंह और ‘आप’ की आतिशी भी मैदान में हैं। भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव में सातों सीटों पर जीत हासिल की थी। उस चुनाव में तीसरे स्थान पर रही इस बार कांग्रेस वापसी की उम्मीदें लगाए है। अधिकारियों ने बताया कि मतगणना केन्द्रों पर और आसपास में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।

Download our app