+

सुशांत केसः NCB का बड़ा एक्शन, मुंबई से लेकर गोवा तक ड्रग पेडलर्स के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापे

नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में ड्रग एंगल की जांच कर रहा है और आज एजेंसी ने नशीले पदार्थों की तस्करों के खिलाफ गोवा और मुंबई के विभिन्न स्थानों पर छापे मार रही है।
सुशांत केसः NCB का बड़ा एक्शन, मुंबई से लेकर गोवा तक ड्रग पेडलर्स के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापे
नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में ड्रग एंगल की जांच कर रहा है और आज एजेंसी ने नशीले पदार्थों की तस्करों के खिलाफ गोवा और मुंबई के विभिन्न स्थानों पर छापे मार रही है। जानकारी के मुताबिक़ ये छापेमारी  अनुज केशवानी द्वारा दी गई जानकारी के आधार पर की जा रही है। 
नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो द्वारा की जा रही छापेमारी ड्रग पेडलर्स से संबंधित हैं। बता दें , संदिग्ध ड्रग पेड अनुज केशवानी को एनसीबी ने गिरफ्तार किया था जब कैज़ान अब्राहिम ने उसके नाम का खुलासा किया था। कैज़ान अब्राहिम ने कहा था कि अनुज केशवानी ग्राहकों के लिए उनके सप्लायर थे। मुंबई और गोवा में छापेमारी का नेतृत्व समी वानखेड़े कर रहे हैं।
कैजान इब्राहिम उर्फ ​​जैसन को एनसीबी ने 3 सितंबर को गिरफ्तार किया था। माना जाता है कि वह रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक चक्रवर्ती के संपर्क में था।एनसीबी के अधिकारीयों ने बताया कि इस छापेमारी का अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े नशीले पदार्थों के उस मामले से प्रत्यक्ष संबंध नहीं है, जिसकी जांच एनसीबी का विशेष जांच दल (एसआईटी) कर रहा है। इस मामले में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शौविक, राजपूत के प्रबंधक सैम्युल मिरांडा, घरेलू सहायक दीपेश सावंत और अन्य को गिरफ्तार किया गया है। 
नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को पहले पता चला था कि सुशांत सिंह राजपूत लॉकडाउन के दौरान रिया चक्रवर्ती के घर पर कुछ दिन बिताना चाहते थे। इस वजह से सुशांत के घर से बड्स और ड्रग्स को रिया के घर कूरियर किया गया था। पूछताछ में रिया , शौविक और अन्य लोगों ने बताया था कि अप्रैल के महीने में एक बॉक्स में 500 g क्यूरेटेड मारिजुआना को घरेलु सामान के साथ कूरियर किया गया था। 
सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग्स का इंतजाम करने के आरोप में NCB ने रिया चक्रवर्ती, शोविक चक्रवर्ती, दीपेश सावंत, सैमुअल मिरांडा, ज़ैद विलात्रा और बासित परिहार को गिरफ्तार किया है। ज़ैद और बासित ड्रग पेडलर हैं जिन्होंने शॉविक को ड्रग्स मुहैया किया था। सत्र न्यायालय ने शुक्रवार (11 सितंबर) को सभी आरोपियों की जमानत याचिका खारिज कर दी। NCB ने 4 सितंबर को रिया चक्रवर्ती के आवास पर भी छापा मारा था।
facebook twitter