+

कोरोना के मद्देनजर दिल्ली में हुई नाईट कर्फ्यू की वापसी, रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेंगी पाबंदियां

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार ने आज रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू किया। ये कर्फ्यू 30 अप्रैल तक लागू रहेगा।
कोरोना के मद्देनजर दिल्ली में हुई नाईट कर्फ्यू की वापसी, रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेंगी पाबंदियां
राष्ट्रीय राजधानी में पिछले 3 हफ्तों से कोरोना के नए मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसे देखते हुए दिल्ली सरकार रात का कर्फ्यू लगाने के प्रस्ताव पर चर्चा हुई। दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने आज रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू किया। ये कर्फ्यू 30 अप्रैल तक लागू रहेगा।
दिल्ली सरकार के नाइट कर्फ्यू की गाइडलाइन के मुताबिक, इस दौरान ट्रैफिक मूवमेंट पर किसी तरह की कोई रोक नहीं होगी, जो लोग वैक्सीन लगवाने जाना चाहते हैं, उनको छूट होगी। राशन, किराना, फल सब्जी, दूध, दवा से जुड़े दुकानदारों को छूट होगी, इस दौरान ई-पास अनिवार्य होगा। इसके अलावा मीडिया को भी ई-पास के जरिए ही इजाजत होगी। आईडी कार्ड दिखाने पर प्राइवेट डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ को भी छूट मिलेगी। जरूरी सेवाओं में लगे सभी विभाग के लोगों को छूट दी जाएगी।
वहीं इससे पहले दिल्ली सरकार के सूत्रों ने बताया कि रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक का कर्फ्यू लगाने के एजेंडे पर चर्चा चल रही है। मामलों में बढ़ोतरी वाले दूसरे राज्यों जैसे मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में पहले ही रात का कर्फ्यू लगाया जा चुका है। हालांकि सूत्रों ने कहा कि इसका प्रस्ताव मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पास भेजा गया था, लेकिन उनके कार्यालय ने कहा है कि अभी ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है। 
2 मार्च को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि राष्ट्रीय राजधानी में नए मामलों में तेजी से बढ़ोतरी देखी जा रही है, हालांकि पहले की तुलना में इस बार संक्रमण दर कम है, लिहाजा किसी भी तरह लॉकडाउन करने की जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा, "हम स्थिति की समीक्षा करेंगे। यदि भविष्य में लॉकडाउन की जरूरत हुई तो पहले मैं इस पर परामर्श करूंगा।"
दिल्ली सरकार द्वारा जारी किए गए हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में सोमवार को 3,548 नए मामले दर्ज होने के बाद कुल मामले 6,79,962 हो गए हैं। वहीं पॉजिटिविटी रेट 5.54 प्रतिशत है। यह लगातार चौथा दिन है कि जब दिल्ली में 3,500 से ज्यादा मामले दर्ज हुए हैं। इससे पहले रविवार को यहां 4,033 नए मामले दर्ज किए गए थे, जो कि साल 2021 का सबसे बड़ा दैनिक आंकड़ा था। वहीं 3 अप्रैल को 3,567 और 2 अप्रैल को 3,594 मामले सामने आए थे।
facebook twitter instagram