नीतीश ने बिहार के्रडिट कार्ड योजना की शरूआत करके देश के लिए शिक्षा के क्षेत्र में एक मिसाल कायाम की : अंशु

 पटना : बिहार के मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार ने बिहार क्रेडिट कार्ड योजना की शुरूआत करके देश के लिए शिक्षा के क्षेत्र में एक मिसाल कायम की है यह योजना उन छात्रों के लिए फायदेमंद है जो 12वीं की परीक्षा पास कर चुके हैं और उच्च शिक्षा के लिए अपने या अन्य राज्यों में पढऩे जा रहे हैं।  जहां एक तरफ अन्य राज्यों में छात्रों को बैंक या सरकार से स्वीकृत  शिक्षा ऋण या अन्य स्कॉलरशिप राशी प्राप्त करने के लिए काफी परेशानियां झेलनी पढ़ती है? 

व लंबा इंतजार करना पड़ता है वहीं दूसरी ओर बिहार क्रेडिट कार्ड योजना के तहत छात्र अपनी आगे की उच्च शिक्षा के लिए 4 लाख तक का लोन आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। यह बात फेडरेशन ऑफ सेल्फ फाईनेंस टेक्नीकल इंस्टीच्यूशन के अध्यक्ष एवं आर्यन्स गु्रप ऑफ  कॉलेजिस, राजपुरा नजदीक चंडीगढ़ के चेयरमैन डॉ. अंशु कटारिया ने पटना में होटल पनाश में एक प्रैस वार्ता को संबोधित करते हुए कही। उन्होने कहा कि यह मॉडल बिहार सरकार द्वारा शिक्षा के माध्यम से बिहार के युवाओं को सशक्त बनाने के लिए की गई सबसे बेहतर पहल है।

श्री कटारिया ने बताया कि इस वर्ष आर्यन्स ने बिहार के छात्रों के लिए अपने विभिन्न कॉलेजिस में प्रवेश देने के लिए बिहार क्रेडिट कार्ड योजना के तहत 500 सीटों की घोषणा की है जिसमें छात्र आर्यन्स कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, आर्यन्स कॉलेज ऑफ लॉ, आर्यन्स बिजनेस स्कल, आर्यन्स इंस्टीच्यूट ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी, आर्यन्स डिग्री कॉलेज, आर्यन्स कॉलेज ऑफ एजुकेशन, आर्यन्स इंस्टीच्यूट ऑफ नर्सिंग,आर्यन्स कॉलेज ऑफ फार्मेसी में दाखिला ले सकते हैं। इसके अलावा एक विशेष छात्रवृत्ति हेल्पलाईन भी शुरू की गई है।  इच्छुक छात्र 1800-123-3633 पर मिस्ड कॉल दे सकते हैं । 

श्री कटारिया ने बताया कि बिहार के विभिन्न हिस्सों से तकरीबन 500 छात्र पहले ही आर्यन्स में विभिन्न पाठ्यक्रमों में शिक्षा हासिल कर रहे हैं वहीं इस वर्ष बिहार से करीब 500 से 600 छात्रों के प्रवेश लेने से चंडीगढ़ के नजदीक स्थित आर्यन्स बिहार के छात्रों के लिए एक प्रमुख शिक्षा केंद्र बन जाएगा।

बिहार के छात्रों के प्रवेश समन्वयक कॉर्डीनेटर   निशांत कुमार ने बताया कि इस वर्ष बिहार के छात्र प्रमुख रूप से इंजीनियरिंगए फार्मेसी और एग्रीकल्चर विषयों में अधिक रूचि दिखा रहे हैं। बिहार क्रेडिट कार्ड योजना के तहत इस सत्र में 250 से अधिक छात्र दाखिला ले चुके हैं।
Tags : ,Nitish,Bihar,field,country