+

LOC पर सैनिकों की तैनाती में कमी नहीं : भारतीय सेना

जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर जवानों की तैनाती में कमी का कोई प्रस्ताव नहीं है, क्योंकि पाकिस्तान ने आतंकवाद को नहीं रोका है।
LOC पर सैनिकों की तैनाती में कमी नहीं : भारतीय सेना
जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर जवानों की तैनाती में कमी का कोई प्रस्ताव नहीं है, क्योंकि पाकिस्तान ने आतंकवाद को नहीं रोका है। भारतीय सेना ने गुरुवार को यह जानकारी दी। हालांकि, सेना ने उम्मीद जताते हुए कहा कि पाकिस्तान सीमा पार आतंकवाद को समर्थन देना बंद कर देगा।
भारत और पाकिस्तान सोमवार को हॉटलाइन पर दोनों देशों के डायरेक्टर-जनरल ऑफ मिल्रिटी ऑपरेशंस (डीजीएमओ) के बीच हुई वार्ता के दौरान संघर्ष विराम को लागू करने पर सहमत हुए हैं।
भारतीय सेना ने कहा, हमारा प्रयास शांति और स्थिरता हासिल करना है, जो क्षेत्र के लिए फायदेमंद है और विशेष रूप से एलओसी के किनारे रहने वाली आबादी के लिए, यह हिंसा के स्तर को नीचे लाने का एक प्रयास है। यह भी कहा गया कि भारत और पाकिस्तान सेना के डीजीएमओ हॉटलाइन के स्थापित तंत्र पर नियमित रूप से बातचीत करते हैं।
पिछले कुछ वर्षो में एलओसी के साथ हमारे काउंटर इनफिलिट्रेशन पोस्चर की स्थिति और मजबूत हो गई है और आतंकवादियों के लिए एलओसी पार कर घुसपैठ करना अब मुश्किल हो गया है।
सेना ने कहा, हमारे पास पाकिस्तान के साथ कड़वे अनुभवों का इतिहास है। अतीत में शांति प्रक्रिया या तो आतंकवाद या पाकिस्तान सेना के कृत्यों के कारण बेपटरी हुई है। हालांकि हम पूरी तरह से आशावादी बने हुए हैं। एलओसी पर शांति दोनों देशों के लिए पारस्परिक रूप से फायदेमंद है।
facebook twitter instagram