+

कोरोना वायरस से सम्बंधित जानकारी न देने पर गोरखपुर के पांच अस्पतालों को नोटिस

प्रशासन ने कोरोना संक्रमितों का डाटा तैयार करने के लिए पोर्टल विकसित किया है। इस पोर्टल पर प्रतिदिन कोरोना से जुड़ी जानकारियां अपडेट की जाती है।
कोरोना वायरस से सम्बंधित जानकारी न देने पर गोरखपुर के पांच अस्पतालों को नोटिस
कोरोना वायरस से सम्बंधित जानकारी न देने के आरोप में स्वास्थ्य विभाग ने गोरखपुर के पांच अस्पतालों को नोटिस जारी किया है। इन अस्पतालों में बाबा राघवदास मेडिकल कालेज, पैनिशिया अस्पताल और ललित नारायण रेलवे अस्पताल मुख्यरूप से शामिल है। दरअसल, प्रशासन ने कोरोना संक्रमितों का डाटा तैयार करने के लिए पोर्टल विकसित किया है। इस पोर्टल पर प्रतिदिन कोरोना से जुड़ी जानकारियां अपडेट की जाती है।
आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया कि कोरोना वायरस की जानकारी न देने पर जिले के पांच अस्पतालों को स्वास्थ्य विभाग ने नोटिस जारी किया है। उन्होंने बताया जिन अस्पतालों के खिलाफ नोटिस जारी किया गया है उसमें बाबा राघवदास मेडिकल कालेज, पैनिशिया अस्पताल और ललित नारायण रेलवे अस्पताल मुख्यरूप से शामिल है। 
सूत्रों ने बताया कि शासन ने कोरोना संक्रमितों का डाटा तैयार करने के लिए पोर्टल विकसित किया है। इसी पोर्टल पर प्रतिदिन कोरोना से सम्बंधित सूचनाएं अपडेट की जाती हैं। इसमें इलाजरत, नए कोरोना संक्रमित और होम आइसोलेशन के अलावा मरने वाले संक्रमितों का ब्यौरा दर्ज किया जाता है और इस पोर्टल पर अपडेट करने की सुविधा शासन ने कोविड अस्पतालों को दे रखी है। इसके लिए अस्पताल प्रबंधन को यूजर आईडी और पासवर्ड दिए गए हैं। 
उन्होंने बताया कि जिले में इसे लेकर अस्पताल लगातार लापरवाही बरत रहे हैं जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग संक्रमितों का सही डाटा समय से जारी नहीं कर पा रहा है। गौरतलब है कि इन अस्पतालों ने पिछले सोमवार को विभाग ने 43 मृतकों का डाटा जारी कर दिया जिससे खलबली मच गई और जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। 
इस बावत गोरखपुर के मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ। श्रीकान्त तिवारी ने बताया कि अस्पतालों को बार बार चेतावनी दी जा रही है लेकिन वे इसको गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि उन्हें अंतिम चेतावनी पत्र जारी किया गया है। उन्होंने कहा कि भविष्य में लापरवाही मिली तो अस्पतालों के खिलाफ सख्त कार्रवायी की जाएगी।
facebook twitter