+

दिल्ली-NCR में वायु प्रदूषण से लड़ने में Odd-Even लागू करना हो सकता है अंतिम विकल्प

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने कहा कि प्रदूषण को लेकर अगर अन्य सभी रास्ते विफल हो जाते हैं तो दिल्ली सरकार सम-विषम योजना को लागू करने के बारे में सोचेगी।
दिल्ली-NCR में वायु प्रदूषण से लड़ने में Odd-Even लागू करना हो सकता है अंतिम विकल्प
दिल्ली-NCR में हर साल सर्दियों में बढ़ने वाले प्रदूषण से निपटने के लिए केजरीवाल सरकार कई उपायों पर चर्चा कर चुकी है। प्रदूषण की समस्या से  पार पाने के लिए वर्तमान में सरकार ‘‘रेड लाइट जली, गाड़ी बंद’’ अभियान पर ध्यान दे रही है। इस बीच अगर प्रदूषण पर काबू नहीं पाया गया तो सरकार सम-विषम योजना (odd-even scheme) को लागू कर सकती है।
दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने सोमवार को कहा कि प्रदूषण को लेकर अगर अन्य सभी रास्ते विफल हो जाते हैं तो दिल्ली सरकार सम-विषम योजना को लागू करने के बारे में सोचेगी। उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली में हमने कई बार सम-विषम योजना लागू की है और यह हमारा अंतिम विकल्प होगा। सम-विषम योजना वाहन से होने वाले प्रदूषण को कम करने का तरीका है, इसलिए फिलहाल हम पूरी तरह इस अभियान (रेड लाइट जली, वाहन बंद) पर ध्यान दे रहे हैं और अगर अन्य कार्यक्रम सफल नहीं हुए तब सरकार सम-विषम योजना लागू करने के बारे में सोचेगी।’’ 

केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने जनता से की अपील, कहा- नजदीक के काम के लिए पैदल जाएं

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 15 अक्टूबर को ‘रेड लाइट जली, गाड़ी बंद’ अभियान की शुरुआत की थी ताकि महानगर में वायु प्रदूषण से निपटा जा सके और उन्होंने लोगों से अपील की कि यातायात सिग्नल पर इंतजार करने के दौरान वाहन का इंजन बंद कर दें। राय ने एक अन्य सवाल के जवाब में दावा किया कि दिल्ली एकमात्र स्थान है जहां पिछले पांच वर्षों में वायु प्रदूषण में कमी आई है जबकि अन्य जगहों पर वायु प्रदूषण में बढ़ोतरी देखी गई है। 
facebook twitter instagram