+

दशहरे की रात ,चुटकी भर लें आए रावण की राख,और चुपचाप कर दें ये काम

दशहरे की रात रावण दहन के बाद जरूर करें ये उपाय।
दशहरे की रात ,चुटकी भर लें आए रावण की राख,और चुपचाप कर दें ये काम
अश्विन माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि के दिन देशभर में दशहरा का पर्व मनाया जाता है।इस बार दशहरा 5 अक्टूबर के दिन बनाया जाएगा।इस दिन भगवान श्री राम ने रावण का वध कर बुराई पर अच्छाई की जीत हासिल की थी।तब से ही इस दिन देशभर में दशहरे का त्योहार धूमधाम से मनाया जाता है।इसे विजयदशमी के नाम से भी जाना जाता है। दशहरे की रात के समय शुभ मुहूर्त में रावण दहन किया जाता है।


रावण दहन के बाद जो राख होती है।ज्योतिष शास्त्र में उसे काफी खास मना जाता है। इस राख से कई परेशानियों को दूर किया जा सकता है। यदि आप आज रात यानी दशहरे की रात को ये उपाय करते हैं तो आपके जीवन की सभी परेशानी दूर हो जाएगी।आइए जानते हैं इन उपायों 


आर्थिक तंगी दूर करने के लिए-विजयदशमी के दिन रावण का पुतला जलने के बाद उस राख को घर ले आएं और उसे किसी साफ कपड़े में लपेटकर घर की तिजोरी में रख दें।ध्यान रहे कि ये उपाय करते समय कोई दूसरा व्यक्ति न देखें और इसे अकेले में करें।मान्यता है कि इस राख को तिजोरी में रखने से कभी रुपए पैसे की कमी नहीं होती है और तिजोरी हमेशा भरी रहती है।

विजयदशमी के दिन रावण का पुतला जलाने की परंपरा है। इस दिन रावण की राख को सरसों के तेल में मिला लें और उसे घर के कोने में छिड़क दें।ऐसा करने से घर में मौजूद नकारात्मकता का नाश होता है।


यदि आप चाहते हैं कि आपके नौकरी व कारोबार में तरक्की हो तो रावण दहन के राख को किसी पात्र में भर कर घर ले आएं। इसी दिन घर की ईशान कोण यानी उत्तर-पूर्व दिशा में रंगोली बनाएं।मान्यता है कि इस खास पर्व की रंगोली से घर में मां लक्ष्मी का आगमन होता है। साथ ही इससे परिवार के सदस्यों की आर्थिक तरक्की शुरू हो जाती है।




facebook twitter instagram