कमल हासन के बयान पर दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचे भाजपा नेता

नई दिल्ली : अभिनेता से नेता बने कमल हासन ने यह कहकर नया विवाद खड़ा कर दिया है कि आजाद भारत का पहला आतंकवादी ‘हिंदू’ था. मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन के इस बयान पर बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय ने दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

अश्विनी उपाध्याय दिल्ली हाईकोर्ट इसलिए पहुंचे हैं ताकि कमल हासन के खिलाफ चुनाव आयोग को उचित कदम उठाने के लिए निर्देश जारी किया जाए। दरअसल, करूर जिले में रविवार को अरावकुरुचि में विधानसभा उपचुनाव के लिए अपनी पार्टी मक्कल नीधि मैयम के उम्मीदवार का प्रचार करते हुए कमल ने कहा था, ‘आजाद भारत का पहला आतंकवादी नाथूराम गोडसे एक हिंदू था। ‘गोडसे ने 30 जनवरी 1948 को नई दिल्ली में महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या की थी।

हासन ने कहा, ‘मैं यहां उस हत्या पर सवाल करने के लिए हूं। ‘कमल हासन के इस बायन से सियासत गरम हो गई। भाजपा की तमिलनाडु इकाई के अध्यक्ष तमिलिसाई सौंदरराजन ने सोमवार को हासन बयान की कड़ी निंदा की। वहीं, बीजेपी नेता सौंदरराजन ने ट्वीट कर कहा कि अब गांधी की हत्या को याद करना और उसे हिंदू आतंकवाद का नाम देना निंदनीय है। तमिलनाडु उपचुनाव में अल्पसंख्यकों के बीच खड़े होकर वे अल्पसंख्यक तुष्टीकरण कर वोट पाने के लिए खतरनाक आग लगा रहे हैं। कमल ने हाल ही में श्रीलंका में हुए बम विस्फोटों पर कुछ नहीं कहा, क्यों।

Download our app
×