+

ऑनलाइन शिक्षा स्कूलों का विकल्प नहीं हो सकती, सिर्फ सीखने-सिखाने की प्रक्रिया को जारी रखने का एक जरिया है : सिसोदिया

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि ऑनलाइन शिक्षा स्कूलों का विकल्प नहीं हो सकती है और यह सिर्फ सीखने-सिखाने की प्रक्रिया को जारी रखने का एक जरिया है।
ऑनलाइन शिक्षा स्कूलों का विकल्प नहीं हो सकती, सिर्फ सीखने-सिखाने की प्रक्रिया को जारी रखने का एक जरिया है : सिसोदिया
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को कहा कि ऑनलाइन शिक्षा स्कूलों का विकल्प नहीं हो सकती है और यह सिर्फ सीखने-सिखाने की प्रक्रिया को जारी रखने का एक जरिया है। कोविड-19 महामारी के कारण ऑनलाइन या सेमी-ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली की समीक्षा करने के लिए सिसोदिया चिराग दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में शिक्षकों और अभिभावकों से चर्चा कर रहे थे।
सिसोदिया ने कहा, ‘‘महामारी के कारण छात्रों का बहुत नुकसान हो रहा है। स्कूल में बच्चे को जैसी शिक्षा और विकास मिलता है, वह ऑनलाइन संभव नहीं है। हमारा लक्ष्य सिर्फ बच्चों को हो रहे नुकसान में कमी लाना है। इसलिए, ऑनलाइन या सेमी-ऑनलाइन शिक्षा आज की जरुरत है।’’

बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त फेफड़ों के कैंसर का इलाज के लिए जा सकते है अमेरिका


उन्होंने कहा, ‘‘मैं समझता हूं कि बच्चों के विकास के लिए यह माहौल सही नहीं है, लेकिन फिलहाल हमारी मंशा सिर्फ सीखने-सिखाने की प्रक्रिया को जारी रखने की है। अगर दिल्ली के 16 लाख छात्रों के साथ मिलकर अभिभावक और शिक्षक प्रार्थना करें तो मुझे यकीन है कि हम जल्दी ही स्कूल खोलने की स्थिति में होंगे।’’

facebook twitter