+

संसद में नए मंत्रियों के परिचय पर विपक्ष ने डाला अड़ंगा, गोयल बोले- पहली बार तोड़ी गई लोकतांत्रिक परंपरा

भाजपा के राज्यसभा में नेता सदन पीयूष गोयल ने विपक्ष पर इसको लेकर निशाना साधा है। गोयल ने कहा कि पहली बार विपक्ष के गैर जिम्मेदराना व्यवहार के कारण लोकसभा और राज्य सभा में नए मंत्रियों का परिचय रोका गया।
संसद में नए मंत्रियों के परिचय पर विपक्ष ने डाला अड़ंगा, गोयल बोले- पहली बार तोड़ी गई लोकतांत्रिक परंपरा
संसद का मॉनसून सत्र आज से शुरू हो गया, जैसे पहले से ही आशंका थी कि विपक्ष  पूरे दमखम के साथ केंद्र की मोदी सरकार को घेरने की कोशिश करेगा और हुआ भी वहीं। विपक्षी दलों ने सत्र के पहले दिन ही जोरदार हंगामा किया, जिसके चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने मंत्रिपरिषद के नए मंत्रियों का परिचय नहीं करा सके।
बीजेपी के राज्यसभा में नेता सदन पीयूष गोयल ने विपक्ष पर इसको लेकर निशाना साधा है। गोयल ने कहा कि पहली बार विपक्ष के गैर जिम्मेदराना व्यवहार के कारण लोकसभा और राज्य सभा में नए मंत्रियों का परिचय रोका गया। राज्य सभा सांसद पीयूष गोयल ने कहा कि संसद में नए मंत्रिमंडल के परिचय की परंपरा है। किंतु सदन में नए मंत्रिमंडल के परिचय में अवरोध पैदा करना विपक्ष की नकारात्मकता को जाहिर करता है।
राज्य सभा में सभापति को भी बोलने नहीं दिया गया। विपक्ष के इस आचरण की हम निंदा करते हैं। पीयूष गोयल ने कहा कि पहली बार मोदी सरकार ने दलित, ओबीसी, आदिवासी और महिला वर्ग के काफी संख्या में मंत्री बनाए, लेकिन विपक्ष ने उनका परिचय होने से रोककर संसदीय परम्पराओं को उल्लंघन किया।



facebook twitter instagram