+

क्या फिर शुरू हो सकता है हमास और इजरायल में खुनी संघर्ष, यरुशलम में फ्लैग मार्च का आयोजन बढ़ा सकता है तनाव

फिलिस्तीनी इस्लामिक हमास आंदोलन ने कहा कि मंगलवार को पूर्वी यरुशलम में एक इजरायली फ्लैग मार्च का आयोजन तनाव के एक नए दौर को प्रज्वलित करेगा।
क्या फिर शुरू हो सकता है हमास और इजरायल में खुनी संघर्ष, यरुशलम में फ्लैग मार्च का आयोजन बढ़ा सकता है तनाव
फिलिस्तीनी इस्लामिक हमास आंदोलन ने कहा कि मंगलवार को पूर्वी यरुशलम में एक इजरायली फ्लैग मार्च का आयोजन तनाव के एक नए दौर को प्रज्वलित करेगा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, गाजा में हमास के प्रवक्ता अब्दुलातिफ अल कानौआ ने एक बयान में कहा कि तथाकथित फ्लैग मार्च का आयोजन फिलिस्तीन में एक नई लड़ाई को शुरु करने के लिए सिर्फ एक डेटोनेटर है।
उन्होंने कहा, तथाकथित फ्लैग मार्च जिसे यरुशलम में रहने वालों द्वारा आयोजित किया गया पवित्र शहर और अल अक्सा मस्जिद की रक्षा के लिए एक नई लड़ाई की ओर ले जाएगा। गाजा में इस्लामिक जिहाद के एक वरिष्ठ नेता अहमद अल मुदलाल ने कहा कि अगर ये फ्लैग मार्च मंगलवार को यरुशलम के इस्लामिक पड़ोस में प्रवेश करता है, तो यह पूरे फिलिस्तीनी क्षेत्रों में रोष और विद्रोह की स्थिति पैदा करेगा।
द टाइम्स ऑफ इजराइल ने बताया कि आयोजकों के अनुसार, मार्च मंगलवार को हानेविइम सेंट में शुरू होगा और दमिश्क गेट की ओर बढ़ेगा। आयोजकों ने एक बयान में कहा कि प्रतिभागी उस पुराने शहर के प्रवेश द्वार से प्रवेश नहीं करेंगे, बल्कि जाफा गेट की ओर बढ़ेंगे।
इसके बाद प्रतिभागी जाफा गेट से ओल्ड सिटी होते हुए पश्चिमी दीवार की ओर मार्च करेंगे। 1967 के 6 दिवसीय युद्ध के दौरान इजराइल द्वारा कब्जा किए जा रहे शहर के पूर्वी हिस्से की हिब्रू वर्षगांठ को चिह्न्ति करने के लिए वार्षिक कार्यक्रम में हजारों यहूदियों ने यरूशलेम के मुस्लिम बहुल हिस्सों के माध्यम से पश्चिमी दीवार की ओर मार्च किया था। 
facebook twitter instagram