पाकिस्तान : हिन्दू समुदाय ने की धार्मिक स्थलों के विकास की मांग

पेशावर : पाकिस्तान के उत्तरपश्चिम प्रांत के हिंदुओं ने सरकार से करतारपुर गलियारे की तर्ज पर खैबर पख्तूनख्वा में 200 से अधिक धार्मिक स्थलों को विकसित करके के लिए कहा है, जिससे वहां पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और देश की बीमार अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने में मदद मिलेगी। पाकिस्तान और भारत ने नवंबर में अलग-अलग ऐतिहासिक करतारपुर गलियारे का उद्घाटन किया था, जिसके जरिए भारतीय सिख तीर्थयात्री बिना वीजा के करतारपुर स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब जा सकते हैं। यहां सिख धर्म के प्रवर्तक गुरु नानक ने अपने अंतिम 18 वर्ष बिताए थे। 

पेशावर के हिंदू समुदाय के नेता हारून सराब दियाल ने रविवार को कहा कि करतारपुर गलियारे के सकारात्मक प्रभाव को देखते हुए प्रांतीय और संघीय सरकारों को खैबर पख्तूनख्वा में हिंदू धार्मिक स्थलों का विकास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इससे धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था में सुधार होगा। उन्होंने कहा कि अगर सरकार हिंदू धार्मिक स्थलों के विकास के लिए सहमत होती है तो इससे दुनिया भर के तीर्थयात्री यहां आएंगे। दियाल ने बताया कि खैबर पख्तूनख्वा के सवाबी जिले में 65 से अधिक धार्मिक स्थल और नौशेरा जिले में 154 धार्मिक स्थल हैं। 
Tags : Railway Board,Punjab Kesari,हाजीपुर,Hajipur,246 Water Vending Machines ,Pakistan,community,places,Kartarpur,corridor,India,Gurdwara Darbar Sahib,pilgrims,Sikh