+

पाकिस्तान की एक और नापाक हरकत, भारत के खिलाफ पी-5 देशों को भेजे डोजियर

विदेश कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया, "दूतों को भारत के पाकिस्तान में आतंकवादी गतिविधियों की योजना बनाने, बढ़ावा देने, उनकी सहायता करने, पालन करने, वित्तपोषण करने और उनके कार्यान्वयन में शामिल होने की जानकारी दी गई।"
पाकिस्तान की एक और नापाक हरकत, भारत के खिलाफ पी-5 देशों को भेजे डोजियर
संयुक्त राष्ट्र में अपना डोजियर पेश करने के लिए पाकिस्तान पूरी तरह अपनी कमर कस रहा है, जिसमें दावा किया गया है कि उसके पास आतंकवाद में भारत की भागीदारी के खिलाफ अकाट्य सबूत हैं। साथ ही वह ब्रीफिंग के जरिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) के स्थायी सदस्यों को इस मामले से जोड़ने की कोशिश कर रहा है।
विश्व मंच पर खुद प्रायोजित आतंकवादियों की पनाहगाह के बजाय पीड़ित बताने वाले उसके तर्को को पश्चिम में कोई मान नहीं रहा है। हाल ही में पाकिस्तान के विदेश सचिव ने यूएनएससी के पी-5 सदस्यों को 'भारत द्वारा प्रायोजित आतंकवाद' के बारे में जानकारी दी।
विदेश कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया, "दूतों को भारत के पाकिस्तान में आतंकवादी गतिविधियों की योजना बनाने, बढ़ावा देने, उनकी सहायता करने, पालन करने, वित्तपोषण करने और उनके कार्यान्वयन में शामिल होने की जानकारी दी गई।" साथ ही इसमें कहा गया है कि भारत के पाकिस्तान के खिलाफ आतंकवाद को प्रायोजित करने के अकाट्य सबूत वाले डोजियर उन्हें सौंपे गए हैं।
विदेश मंत्रालय ने भारतीय विदेश मंत्रालय द्वारा सबूतों को अस्वीकार करने की बात से भी इनकार कर दिया है। बयान में कहा गया, "पूरी तरह से उजागर हो गया है कि भारत झूठी कहानियों का सहारा ले रहा है। इनकार करने और पुराने आरोपों को दोहराने से तथ्यों में बदलाव नहीं होगा।"
बता दें कि भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के डोजियर को काल्पनिक बताते हुए खारिज कर दिया है और इसे देश की आंतरिक राजनीति और आर्थिक समस्याओं से ध्यान हटाने का प्रयास बताया है। इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और महानिदेशक (डीजी) इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ने पाकिस्तान के खिलाफ आतंकवाद को प्रायोजित करने में भारत की संलिप्तता के सबूत पेश किए थे।
विदेश मंत्री कुरैशी ने कहा, "पाकिस्तान द्वारा प्रस्तुत किए गए डोजियर में पाकिस्तान के खिलाफ आतंकवादी गतिविधियों में भारत की सक्रिय योजना, प्रचार, सहायता, पालन, वित्त पोषण और निष्पादन के दस्तावेज हैं। हमारी सीमाओं पर भारत द्वारा प्रायोजित आतंकवाद के कारण पाकिस्तान को लगातार नुकसान हो रहा है। अब तक प्रत्यक्ष आर्थिक नुकसान 126 अरब अमेरिकी डॉलर से ऊपर का रहा है।"
कुरैशी ने कहा है, "भारत पाकिस्तान में आतंकवाद फैला रहा है और खुद को आतंकवाद के शिकार के तौर पर पेश कर रहा है। इसने पाकिस्तान की छवि खराब करने के लिए आईआईओजेके (भारत द्वारा अवैध रूप से अधिकृत जम्मू और कश्मीर) और भारत के अंदर झूठा ऑपरेशन किया है। अब वह मुखौटा हट गया है और दुनिया भारत के असली चेहरे को देख सकती है कि वो एक दशक से लंबे समय से आईआईओजेके में आतंकवाद प्रायोजित कर रहा है और पाकिस्तान में अस्थिरता लाने का प्रयास कर रहा है।"

अपनी किताब में बराक ओबामा ने किया बड़ा खुलासा - पाकिस्तानी सेना और बिन लादेन में थे खास संबंध

facebook twitter instagram