पाकिस्तान ने संघर्ष विराम के उल्लंघन पर भारतीय दूत को किया तलब

पाकिस्तान ने बुधवार को भारत के उप उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया को नियंत्रण रेखा पर भारतीय सैनिकों द्वारा संघर्ष विराम के कथित उल्लंघन पर विरोध जताने के लिए तलब किया। पाकिस्तान का दावा है कि इस कथित संघर्ष विराम उल्लंघन में उसके तीन नागरिक मारे गए और आठ अन्य घायल हो गए।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि महानिदेशक (दक्षिण एशिया एवं दक्षेस) मोहम्मद फैजल ने अहलूवालिया को तलब किया और मंगलवार को नियंत्रण रेखा पर नेजापीर सेक्टर में भारतीय सैनिकों द्वारा कथित तौर पर संघर्ष विराम उल्लंघन किए जाने की निंदा की। पाकिस्तान ने आरोप लगाया कि भारतीय बलों की ‘बिना उकसावे की गोलीबारी’ में तीन आम नागरिकों की मौत हो गई जबकि एक महिला और एक बच्चे समेत आठ अन्य घायल हो गए। 

अर्थव्यवस्था को लेकर प्रियंका का केंद्र पर तंज, कहा-विश्व बैंक के बाद IMF ने भी दिखाया सरकार को आईना

फैजल विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता भी हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि नियंत्रण रेखा और कामकाजी सीमा पर भारतीय बल तोप से, भारी मोर्टार और स्वचालित हथियारों से रहवासी इलाकों को लगातार निशाना बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि रहवासी इलाकों को जानबूझकर निशाना बनाना निश्चित ही निंदनीय है और मानवीय सम्मान, अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार तथा मानवीय कानूनों का विरोधाभासी है। 

फैजल ने भारतीय पक्ष से अनुरोध किया कि वह 2003 की संघर्ष विराम व्यवस्था का सम्मान करे, इनकी और संघर्ष विराम की अन्य घटनाओं की जांच करे और भारतीय बलों को निर्देश दे कि वह संघर्ष विराम का सम्मान करें और नियंत्रण रेखा तथा कामकाजी सीमा पर शांति बना कर रखे। 

Tags : Railway Board,Punjab Kesari,हाजीपुर,Hajipur,246 Water Vending Machines ,envoy,Pakistan,Indian,ceasefire,Gaurav Ahluwalia,troops,ceasefire violation