+

विक्टोरिया मेमोरियल में नेताजी की जयंती पर ‘पराक्रम दिवस’ समारोह, PM मोदी और CM ममता मौजूद

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर यहां आयोजित ‘‘पराक्रम दिवस’’ समारोह में भाग लेने के लिए शनिवार को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता पहुंचे।
विक्टोरिया मेमोरियल में नेताजी की जयंती पर ‘पराक्रम दिवस’ समारोह, PM मोदी और CM ममता मौजूद
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर यहां आयोजित ‘‘पराक्रम दिवस’’ समारोह में भाग लेने के लिए शनिवार को पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता पहुंचे। अपने आधिकारिक कार्यक्रम में आखिरी मिनट में बदलाव करते हुए, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को एल्गिन रोड पर नेताजी के पैतृक घर का दौरा किया।
दोपहर करीब 2.45 बजे एयरपोर्ट पहुंचने के बाद पीएम मोदी एक चॉपर से रेस कॉस ग्राउंड आए। वहां से वह सीधे नेताजी भवन में उनकी 125 वीं जयंती पर उन्हे श्रद्धांजलि देने पहुंचे। वहीं नरेंद्र मोदी ने कोलकाता में नेताजी भवन का दौरा किया। पीएम मोदी ने कोलकाता में नेशनल लाइब्रेरी का दौरा किया। उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा को पुष्प अर्पित किए। 
इसके बाद उन्होंने नेशनल लाइब्रेरी में कलाकारों और प्रतिनिधियों के साथ मुलाकात की। जिसके बाद कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल पहुंचे। उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ भी मौजूद रहे।
भवानीपुर इलाके में स्थित ‘‘नेताजी भवन’’ पहुंचने पर सुगतो बोस और उनके भाई सुमंत्रो बोस ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया। ये दोनों नेताजी सुभाष चंद्र बोस के परपोते हैं। ‘‘नेताजी भवन’’ में प्रधानमंत्री का इंतजार कर रहे लोगों ने उनके पहुंचने पर ‘‘जय श्री राम’’ के नारे लगाए। प्रधानमंत्री ने हाथ हिलाकर उनका अभिवादन किया। सुगतो बोस ने कहा कि मोदी को वह ‘‘वंडर कार’’ दिखाई गई जिसमें सवार होकर नेताजी सुभाष चंद्र बोस कोलकाता से गोमो पहुंचे थे।
मोदी को नेताजी और उनके भाई सरत चंद्र बोस के कमरे भी दिखाए गए। प्रधानमंत्री ने उस संग्रहालय का भी दौरा किया जहां आजाद हिंद फौज से जुड़ी यादगार तस्वीरें हैं। उन्होंने इसके बाद नेशनल लाइब्रेरी का दौरा किया। वहां ‘‘21वीं सदी में नेताजी की विरासत का पुन:अवलोकन’’ विषय पर एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया है। वहां कलाकारों की ओर से एक प्रदर्शनी भी लगाई गई है। प्रधानमंत्री ने कलाकारों और सम्मेलन में भाग लेने वाले प्रतिभागियों से संवाद किया। 
बता दें कि इससे पहले दिन में, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नेताजी के पैतृक घर का औचक दौरा किया और वहां से उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए श्यामबाजार में एक रैली के लिए निकाली। पीएम मोदी का शनिवार को नेशनल लाइब्रेरी और विक्टोरिया मेमोरियल में दो अलग-अलग कार्यक्रमों में भाग लेने का कार्यक्रम था। लेकिन सूत्रों ने बताया कि नेताजी के एल्गिन रोड निवास की यात्रा को अंतिम समय में यात्रा कार्यक्रम में जोड़ा गया।

भारत जैसे बड़े देश में होनी चाहिए 4 राजधानी, इतिहास बदलने की कोशिश में केंद्र : CM ममता


facebook twitter instagram