+

क्वारंटीन में गालियां देना सीख गए तोते, चिड़ियाघर कर्मियों ने लिया ये फैसला

ब्रिटेन के एक चिड़ियाघर से चौंकाने वाली घटना सामने आई है दरअसल यहां के एक चिड़ियाघर में कर्मचारियों ने 5 तोतों को इसलिए हटा दिया क्योंकि वो लोगों को गाली देने लगे थे।
क्वारंटीन में गालियां देना सीख गए तोते, चिड़ियाघर कर्मियों ने लिया ये फैसला
तोते बड़ा ही मासूम सा पक्षी है। आपने इंटरनेट पर तोते के कई तरह के करतब भी देखे होंगे, तोतों को गाते हुए, लोगों से बात करते हुए भी सूना होगा।  लेकिन ब्रिटेन के एक चिड़ियाघर से चौंकाने वाली घटना सामने आई है दरअसल यहां के एक चिड़ियाघर में कर्मचारियों ने 5 तोतों को इसलिए हटा दिया क्योंकि वो लोगों को गाली देने लगे थे। 
मिली जानकारी के मुताबिक़  इन पांच तोतों को कुछ वक्त क्वारंटीन पीरियड से गुजरना पड़ा था। जिसके बाद से उनमें ये बदलाव देखा गया।   ये तोते चिड़ियाघर में घूमने आ रहे लोगों को बेहद गंदी-गंदी गाली देने लगे थे। जिससे चिड़ियाघर को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। रिपोर्ट के अनुसार ये तोते पूर्वी इंग्लैंड के लिंकनशायर वाइल्डलाइफ पार्क को दे दिए गए थे। पार्क अधिकारियों का कहना है कि ऐसी घटना पहले भी आ चुकी है लेकिन ये पांच लगातार लोगों को गांलियां दे रहे थे जो परेशानी का कारण बन गया। 
पार्क के चीफ एग्जेक्यूटिव ने इन पांच तोतों के नाम एरिक, जेड, टाइसन, बिली, एल्सी बताया है। उन्होंने कहा कि इन तोतों को अलग-अलग लोगों ने चिड़ियाघर को दिया था। जिसके बाद इन्हें कुछ समय के लिए क्वारंटीन के लिए रखा गया था और वक्त पूरा होने पर जब चिड़ियाघर में आए तो इन्होंने बच्चों, बुजुर्ग सभी को गालियां देने लगे। जिस कारण उन्हें अलग करने का फैसला लिया गया। 
उन्होंने  बताया की पक्षी कुछ भी बोलना सीख सकते है, वो शब्दों को आसानी से पकड़ लेते है. उन्होंने कहा की तोतों की गालियों को कई लोगों ने काफी एंजॉय भी किया। लेकिन बच्चों पर इसका गलत असर पड़ रहा था और इन तोतों के लगातार इस तरह के शब्दों का इस्तेमाल करता देख इन्हें चिड़ियाघर से कुछ वक्त के लिए हटाने का फैसला लिया गया। बता दें की तोते इंसानों की तरह  कुछ कुछ शब्दों को बोल सकते हैं, और जो उन्हें सिखाया जाता है वही वो सीखते हैं  
facebook twitter instagram