फूल्का का राज्य विधानसभा से इस्तीफा 'हथकंडा' : पंजाब के मंत्री

पंजाब के चार मंत्रियों ने आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता एच एस फूल्का के राज्य विधानसभा से इस्तीफा देने को रविवार को 'हथकंडा' करार दिया और कहा कि उनका मकसद राज्य में घटते राजनीतिक कद को देख जनता के बीच सुर्खियों में आना है। 

फूल्का ने शनिवार को उन सभी विधायकों ने से इस्तीफा देने के लिये कहा था जिन्होंने विधानसभा में बरगाड़ी बेअदबी मुद्दे को उठाया। 

पंजाब के मंत्रियों तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा, सुखजिन्दर सिंह रंधावा, सुखबिन्दर सिंह सरकारिया और गुरप्रीत सिंह कांगड़ ने रविवार को यहां जारी एक संयुक्त बयान में फूल्का पर ‘‘विधायकों के इस्तीफे की संवेदनहीन और फिजूल मांग को लेकर निशाना साधा।’’ 

इन मंत्रियों ने कहा, 'विधानसभा से इस्तीफा देना महज एक हथकंडा है जिसका मकसद घटती राजनीतिक मौजूदगी को देख जनता के बीच सुर्खियों में आना है।'
 
उन्होंने कहा कि फूल्का बेअदबी के मामलों में सरकार की ओर से की गई प्रगति से जनता का ध्यान हटाने का प्रयास कर रहे हैं। 

फूल्का ने 2015 के बेअदबी मामलों में शामिल लोगों के खिलाफ तुरन्त कार्रवाई किये जाने का दबाव बनाने के लिये इस्तीफा दे दिया था। 

पंजाब विधानसभा के अध्यक्ष राणा के पी सिंह ने शुक्रवार को फूल्का का इस्तीफा स्वीकार कर लिया था। उन्होंने पिछले साल विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था।

Download our app
×