+

पायलट गुट के विधायकों ने तोड़ी चुप्पी, अशोक गहलोत पर कह दी बड़ी बात

राजस्थान कांग्रेस में चल रहे सियासी संकट के बीच गहलोत आज दिल्ली में मौजूद है। वो आज अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने वाले है, जिसके बाद अध्यक्ष पद को लेकर फैसला लिया जाएगा
पायलट गुट के विधायकों ने तोड़ी चुप्पी, अशोक गहलोत पर कह दी बड़ी बात
राजस्थान कांग्रेस में चल रहे सियासी संकट के बीच गहलोत आज दिल्ली में मौजूद है। वो आज अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने वाले है, जिसके बाद अध्यक्ष पद को लेकर फैसला लिया जाएगा। गहलोत सोनिया की मुलाकत सुबह 11 बजे से लेकर दोपहर दो बजे के बीच में कभी भी हो सकती है। इस मुलाकात के दौरान वहाँ कई नेता भी मौजूद रहेंगे।  जिसमें, खड़गे, अजय माकन और एके एटनी का भी नाम शामिल है। 
अध्यक्ष पद को लेकर आज आएगा सोनिया गांधी का फैसला 
मिली जानकारी के अनुसार आज अध्यक्ष पद और राजस्थान के सीएम के नामों को लेकर फैसला आ सकता है, लेकिन उससे पहले गहलोत-पायलट गुट के विधायकों ने एक दूसरे के ऊपर आरोप लगाना शुरू कर दिया है। सबसे पहले पायलट गुट के नेताओं ने अपनी चुप्पी तोड़ दी है। 
पार्टी नेतृत्व का हर फैसला स्वीकार है : मुरारीलाल मीणा 
पायलट खेमे के मंत्री मुरारीलाल मीणा ने गहलोत गुट के विधायकों पर निशाना साधते हुए कहा ,'हमारे लिए गहलोत गुट के नेता जिस तरह के भाषा का प्रयोग करते है, वो उन्हें शोभा नहीं देता है। हमे पार्टी नेतृत्व की तरफ से जो आदेश मिलता हम वो मानते है। अगर हाईकमान गहलोत को भी दुबारा सीएम कंटिन्यू करते तो हमे वो स्वीकार था।'
102 विधायकों में से कोई भी बने सीएम: गहलोत गुट मंत्री 
बता दें, पायलट गुट के विधायकों और मंत्रियों को जवाब देते हुए गहलोत गुट के मंत्री परसादीलाल मीणा ने कहा, 'हम मध्यवधि चुनाव के लिए तैयार है, लेकिन  बीजेपी की गोद में बैठने वाले पायलट को सीएम के रूप में स्वीकार नहीं कर सकते है, इसलिए पार्टी नेतृत्व को गहलोत के अध्यक्ष बनने के बाद हम 102 विधायकों में से किसी एक को सीएम बनाना होगा। ' पायलट-गहलोत गुट के विधायकों के बीच विवाद बढ़ता जा रहा है। अब सोनिया अशोक गहलोत के मुलाकात के बाद ही इसपर विराम लग सकता है। 

facebook twitter instagram