मध्य और पूर्वी यूरोपीय कंपनियों के लिए भारत में काफी अवसर : पीयूष गोयल

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने बुधवार को कहा कि मध्य और पूर्वी यूरोपीय देशों की कंपनियों के लिए 1.3 अरब आबादी वाले देश भारत में काफी अवसर है। उन्होंने यह भी कहा कि भारत और यूरोप दोनों ही दुनिया में आर्थिक वृद्धि को गति देने में मदद के अवसर की भी पेशकश करते हैं। 
उद्योग मंडल सीआईआई द्वारा आयोजित भारत-यूरोप 29 व्यापार मंच को संबोधित करते हुए पीयूष गोयल ने यहां कहा, ‘‘साथ मिलकर हम कई अवसरों की पेशकश करते हैं और मैं उम्मीद करता हूं कि हम साथ मिलकर और काम कर सकते हैं। हमारे पास तुलनात्मक और प्रतिस्पर्धी दोनों लाभ हैं।’’ 

Swiggy का भारत में क्लाउड किचन में 175 करोड़ रुपये का निवेश

यूरोपीय कंपनियों को निवेश का निमंत्रण देते हुए मंत्री ने कहा कि भारत निवेशकों के लिए कर की कम दर के साथ कई प्रोत्साहानों की पेशकश करता है।’’ पीयूष गोयल ने कहा, ‘‘हमने कर की दरें कम की हैं। हमारे पास 1.3 अरब लोगों का बाजार है जो बेहतर गुणवत्तापूर्ण जीवन के आकांक्षी हैं।’’ 
भारतीय और मध्य तथा पूर्वी यरोपीय देशों की कंपनियां कृत्रिम मेधा (आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस), नवीकरणीय ऊर्जा और अत्याधुनिक विनिर्माण जैसे क्षेत्रों में सहयोग बढ़ा सकते हैं। कार्यक्रम में बुल्गारिया की आर्थिक और जनसंख्या नीति संबंधी मामलों की उप-प्रधानमंत्री मारियाना निकोलोवा ने भी भारतीय कंपनियों को अपने देश में निवेश का निमंत्रण दिया। 
उन्होंने कहा कि उनका देश स्थिर और भरोसेमंद नीति व्यवस्था उपलब्ध कराता है और निवेशकों को वहां कई प्रोत्साहन दिए गए हैं। विदेश सचिव टी एस तिरुमूर्ति ने कहा कि मध्य और पूर्वी यूरोपीय देश भारत में उपलब्ध अवसरों से लाभ उठा सकते हैं। 
Tags : पटना,Patna,सुशील कुमार,Punjab Kesari,stunning,forgery,Millionaire,mask company ,Central,companies,India,Eastern European,Piyush Goyal