+

बिहार चुनाव में पीएम मोदी की हुंकार, आर्टिकल 370 और कृषि बिल को लेकर विपक्ष को घेरा

विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल-370 हटने का इंतजार देश बरसों से कर रहा था या नहीं। ये फैसला हमने लिया, एनडीए की सरकार ने लिया। लेकिन आज ये लोग इस फैसले को पलटने की बात कर रहे हैं।
बिहार चुनाव में पीएम मोदी की हुंकार, आर्टिकल 370 और कृषि बिल को लेकर विपक्ष को घेरा
बिहार में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी प्रचार का शंखनाद किया। वहीं पीएम मोदी ने दिवंगत नेता रामविलास पासवान और रघुवंश प्रसाद सिंह को नमन किया। बिहार विधानसभा चुनाव के प्रचार अभियान में शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उतर आए। रोहतास के डेहरी में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार को देश का स्वभिमान, सम्मान बताते हुए कहा कि कुछ लोग भ्रम फैला रहे हैं, लेकिन सभी सर्वे बता रहे हैं, कि फिर से राजग सरकार ही आएगी।
मोदी ने डेहरी में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जोरदार निशाना साधा। उन्होंने बिना किसी के नाम लिए हुए कहा, जिन लोगों ने सरकारी नियुक्तियों के लिए बिहार के नौजवानों से लाखों की रिश्वत खाई, वो फिर बढ़ते हुए बिहार को ललचाई नजरों से देख रहे हैं। आज बिहार में पीढ़ी भले बदल गई हो, लेकिन बिहार के नौजवानों को ये याद रखना है कि बिहार को इतनी मुश्किलों में डालने वाले कौन थे?
उन्होंने इशारों ही इशारों में राजद शासनकाल की याद करवाते हुए कहा कि बिहार के लोग भूल नहीं सकते वो दिन जब सूरज ढलने का मतलब होता था, सब कुछ बंद हो जाना, ठप्प पड़ जाना। आज बिजली है, सड़के हैं, लाइटें हैं और सबसे बड़ी बात वो माहौल है जिसमें राज्य का सामान्य नागरिक बिना डरे रह सकता है, जी सकता है। उन्होंने अपने संबोधन में भोजपुरी भाषा में कहा, भारत के सम्मान बा बिहार, भारत के स्वाभिमान बा बिहार, भारत के संस्कार बा बिहार, संपूर्ण क्रांति के शंखनाद बा बिहार, आत्मनिर्भर भारत के परचम बा बिहार।
उन्होंने बिहार के लोगों की तारीफ करते हुए कहा कि यहां के लोग भ्रम में नहीं रहते। यहां के लोगें ने फैसला ले लिया है, मन बना लिया है। उन्होंने कहा, जितने सर्वे हो रहे हैं, जितनी रिपोर्ट आ रही है, सभी में ये ही आ रहा है - बिहार में फिर एक बार राजग सरकार बनने जा रही है। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा कि बिहार के लोगों ने मन बना लिया है, ठान लिया है कि जिनका इतिहास बिहार को बीमारू बनाने का है, उन्हें आसपास भी नहीं फटकने देंगे।
प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को गरीबों के लिए काम करने वाला नेता बताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। मोदी ने समाजवादी नेता रघुवंश प्रसाद सिंह को भी याद किया और उन्हे श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी लोगों को संबोधित किया। मोदी शुक्रवार को गया और भागलपुर में भी चुनावी रैली को संबोधित करेंगे।
पीएम मोदी ने कहा कि 2014 में केंद्र में सरकार बनने के बाद जितने समय बिहार को डबल इंजन की ताकत मिली, राज्य के विकास के लिए और ज्यादा काम हुआ है। राज्य को जो प्रधानमंत्री पैकेज मिला था, उसपर काम की रफ्तार भी तेज गति से आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि गरीब दीवाली और छठ पूजा ठीक से मना सके, इसके लिए मुफ्त अनाज की व्यवस्था की गई है। इसी कोरोना के दौरान करोड़ों गरीब बहनों के खाते में सीधी मदद भेजी गई, मुफ्त गैस सिलेंडर की व्यवस्था की गई। देश जहां संकट का समाधान करते हुए आगे बढ़ रहा है, ये लोग देश के हर संकल्प के सामने रोड़ा बनकर खड़े हैं।
विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल-370 हटने का इंतजार देश बरसों से कर रहा था या नहीं। ये फैसला हमने लिया, एनडीए की सरकार ने लिया। लेकिन आज ये लोग इस फैसले को पलटने की बात कर रहे हैं। ये कह रहे हैं कि सत्ता में आए तो आर्टिकल-370 फिर लागू कर देंगे। उन्होंने कहा कि इन लोगों को आपकी जरूरतों से कभी सरोकार नहीं रहा। इनका ध्यान रहा है अपने स्वार्थों पर, अपनी तिजौरी पर।

राहुल का पीएम मोदी पर तंज- तुम्हारे दावों में बिहार का मौसम गुलाबी है, मगर आंकड़े झूठे हैं और दावा किताबी है

facebook twitter instagram