पीएमसी बैंक घोटाला : पूर्व निदेशक सुरजीत सिंह अरोड़ा की न्यायिक हिरासत बढ़ी

मुंबई की एक अदालत ने पंजाब एंड महाराष्ट्र कोआपरेटिव (पीएमसी) बैंक घोटाले में बैंक के पूर्व निदेशक सुरजीत सिंह अरोड़ा को 22 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत पर भेज दिया है। अरोड़ा को मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने गिरफ्तार किया था। 

अदालत ने बैंक के पूर्व प्रबंध निदेशक जॉय थॉमस को भी बृहस्पतिवार को पुलिस हिरासत खत्म होने के बाद 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। अरोड़ा को आर्थिक अपराध शाखा ने बुधवार को गिरफ्तार किया था। 

अयोध्या का नक्शा फाड़ने को वेदांती ने बताया सुप्रीम कोर्ट का अपमान, कहा-दर्ज कराऊंगा केस 

पीएमसी बैंक के 4,355 करोड़ रुपये के घोटाले के सिलसिले में अरोड़ा को जांच एजेंसी ने तलब किया था। उसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था। अरोड़ा को बृहस्पतिवार को मेट्रोपालिटन मजिस्ट्रेट एस जी शेख की अदालत में पेश किया गया। अदालत ने उन्हें 22 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत में भेजने का आदेश दिया। इस मामले में गिरफ्तार होने वाले अरोड़ा पांचवें आरोपी हैं। 

आर्थिक अपराध शाखा के एक अधिकारी ने कहा कि अरोड़ा पीएमसी बैंक में निदेशक रह चुके हैं। वह बैंक की ऋण समिति में भी थे। ‘‘घोटाले में उनकी भूमिका सामने आई है। वह ऋण मंजूर करने की प्रक्रिया में शामिल रहे हैं।’’ अरोड़ा और थॉमस के अलावा इस घोटाले में एचडीआईएल के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक राकेश वधावन, उनके पुत्र सारंग वधावन और पीएमसी बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह को भी गिरफ्तार किया गया है। 
Tags : Badrinath,चारधाम यात्रा,बद्रीनाथ,हिमपात,Snow,भीषण ठंड,Kedarnath Dham,केदारनाथ धाम,Chardham Yatra,Gruzing cold ,Surjit Singh Arora,Mumbai,court,Punjab,Maharashtra Cooperative,PMC