+

राकेश टिकैत के काफिले पर हमले के आरोप में पुलिस ने 14 लोगों को किया गिरफ्तार

किसान नेता राकेश टिकैत की गाड़ियों के काफिले पर शुक्रवार को राजस्थान के अलवर जिले में कुछ लोगों ने कथित रूप से पत्थर फेंके।
राकेश टिकैत के काफिले पर हमले के आरोप में पुलिस ने 14 लोगों को किया गिरफ्तार
किसान नेता राकेश टिकैत की गाड़ियों के काफिले पर शुक्रवार को राजस्थान के अलवर जिले में कुछ लोगों ने कथित रूप से पत्थर फेंके। घटना में किसी को चोट तो नहीं लगी लेकिन टिकैत की कार का पिछला शीशा थोड़ा क्षतिग्रस्त हो गया। यह घटना बहरोड़ के ततारपुर चौराहे पर हुई। टिकैत ने शुक्रवार को अलवर में दो किसान रैलियों को संबोधित किया। किसान नेता पर हुए हमले का मामला देर रात दर्ज किया गया। इस मामले में पुलिस ने ABVP के कार्यकर्ता कुलदीप सिंह यादव समेत 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। 
भिवाड़ी के पुलिस अधीक्षक राम मूर्ति जोशी ने बताया कि जिस वाहन को निशाना बनाया गया था उसमें टिकैत मौजूद नहीं थे। घटना में कोई घायल नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि मत्स्य विश्वविद्यालय अलवर के छात्र नेता कुलदीप राव ने अपने समर्थकों के साथ वहां से गुजर रहे टिकैत के काफिले को काले झंडे दिखाए। 
उन्होंने कहा, ‘‘काफिले के कुछ वाहन वहां रुक गए और उनमें सवार सदस्यों की इस मुद्दे को लेकर झंडे दिखा रहे लोगों से बहस हुई। इस बीच उनमें से किसी ने एक कार का शीशा संभवत: किसी पत्थर से तोड़ दिया।’’ पुलिस अधीक्षक के अनुसार घटना के संबंध में मुख्य आरोपी कुलदीप राव सहित चार लोगों को हिरासत में लिया गया है। टिकैत के साथ चल रहे भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राजाराम मील ने कहा कि आरोपी लगभग 40-50 थे और उनके पास लाठियां थीं। 
उन्होंने कहा, ‘‘हम हरसोली में पहली बैठक को संबोधित करने के बाद बानसूर की ओर जा रही थे तो तातारपुर के पास यह घटना हुई।’’ घटना के बाद टिकैत ने दूसरी सभा को संबोधित किया। माकपा के पूर्व विधायक अमरा राम ने आरोप लगाया कि भाजपा के इशारे पर एबीवीपी के सदस्यों ने हमला किया। 
गाजियाबाद में भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता ने भी इस कथित हमले के लिए एबीवीपी को दोषी ठहराया। बीकेयू के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक ने गाजियाबाद में कहा, "एबीवीपी के कुछ कार्यकर्ताओं ने राकेश टिकैत पर हमला किया और उनके वाहन के पिछले शीशे को क्षतिग्रस्त कर दिया।’’ 

facebook twitter instagram