+

भोपाल में कोरोना वॉरियर्स पर भांजी गई लाठियां, कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर साधा निशाना

भोपाल के नीलम पार्क में बीते तीन दिन से नियमित करने की मांग को लेकर ये स्वास्थ्यकर्मी धरने पर बैठे थे। इस दौरान अचानक पुलिस ने बलपूर्वक सभी को नीलम पार्क से लाठी और डंडे के दम पर खदेड़ दिया।
भोपाल में कोरोना वॉरियर्स पर भांजी गई लाठियां, कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर साधा निशाना
कोरोना काल में अपनी कर्तव्यों पर डटे स्वास्थ्यकर्मियों के जस्बे को पूरा देश सलाम कर रहा है। महामारी की परवाह न करते हुए अपनी ड्यूटी निभा रहे डॉक्टरों का जहां एक और सम्मान हो रहा है, वहीं मध्य प्रदेश के भोपाल में अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे स्वास्थ्यकर्मियों पर पुलिस ने लाठियां बरसाई।
इस घटना पर कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्वीट करते हुए लिखा, कोरोना की इस भीषण महामारी में अपनी जान जोखिम में डाल सेवाएं देने वाले कोरोना वारियर्स भोपाल में अपनी जायज मांगो को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे तब उन्हें न्याय दिलवाने की बजाय उन पर बर्बर तरीके से लाठीचार्ज किया गया। जो सम्मान के हकदार उनसे अपराधियों की तरह व्यवहार?
उन्होंने लिखा, जहां एक तरफ विश्व भर में कोरोना योद्धाओं का सम्मान किया जा रहा है, उन्हें प्रोत्साहित किया जा रहा है वही दूसरी तरफ मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार उन पर बर्बर तरीक़े से लाठियाँ बरसा रही है, यह घटना बेहद निंदनीय व मानवीयता व इंसानियत को शर्मसार करने वाली।
दरअसल, गुरुवार को भोपाल के नीलम पार्क में बीते तीन दिन से नियमित करने की मांग को लेकर ये स्वास्थ्यकर्मी धरने पर बैठे थे। इस दौरान अचानक पुलिस ने बलपूर्वक सभी को नीलम पार्क से लाठी और डंडे के दम पर हटाकर खदेड़ दिया। इस घटना का वीडियो भी सामने आया है।
स्वास्थ्यकर्मियों के मुताबिक, ऐसे करीब 6 हजार स्वास्थकर्मियों को सरकार ने अप्रैल 2020 में तीन महीने के लिए कॉन्ट्रैक्ट पर नियुक्ति दी थी। इसके बाद से 3-3 महीने में 2 बार कॉन्ट्रैक्ट बढ़ाया गया और अब सेवाएं 31 दिसंबर को खत्म की जा रही हैं। जिसको लेकर स्वास्थ्यकर्मियों ने विरोध जताया।
facebook twitter instagram