+

जनसंख्या नियंत्रण को लेकर सियासत जारी, CM को मिला मांझी का साथ, कहा-'नीतीश मॉडल सफल'

बिहार में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर प्रारंभ हुई सियासत थमती नजर नहीं आ रही है। इस बीच जनसंख्या नियंत्रण के विषय पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सहयोगी दल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) का साथ मिला है।
जनसंख्या नियंत्रण को लेकर सियासत जारी, CM को मिला मांझी का साथ, कहा-'नीतीश मॉडल सफल'
बिहार में जनसंख्या नियंत्रण को लेकर प्रारंभ हुई सियासत थमती नजर नहीं आ रही है। इस बीच जनसंख्या नियंत्रण के विषय पर  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सहयोगी दल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) का साथ मिला है।
हम के प्रमुख और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने बुधवार को कहा कि जनसंख्या नियंत्रण का नीतीश मॉडल सफल है। उन्होंने नीतीश मॉडल को अन्य राज्यों को भी अपनाने की आवश्यकता बताई है। पूर्व मुख्यमंत्री मांझी ने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण को लेकर वो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बयान एवं उपायों का स्वागत करते हैं।
उन्होंने कहा, '' बिहार में बच्चियों के शिक्षा का असर है कि देश के प्रजनन दर के औसत बिहार का प्रजनन दर कम है। इसलिए, जनसंख्या नियंत्रण के लिए अन्य राज्यों को भी नीतीश कुमार के मॉडल को अपनाने की आवश्यकता है।'' उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाए जाने की घोषणा के बाद बिहार में यह मामला गर्म हो गया है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून लाना जरूरी नहीं। उन्होंने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून लाने से बहुत लाभ नहीं होने वाला है। इसके लिए महिलाओं को शिक्षित और जागरुक करना जरूरी है। मुख्यमंत्री के इस बयान के बाद सरकार में शामिल भाजपा के नेताओं ने जनसंख्या नियंत्रण को जरूरी बताया है।

facebook twitter instagram