+

महंगाई पर सियासत गर्माई! राहुल का केंद्र पर ताबड़तोड़ अटैक- मोदी अपने मित्रों को ‘फ्री फंड’ में बेच रहे देश की संपत्तियां

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने संसद में सत्तापक्ष की ओर से महंगाई होने की बात को खारिज किए जाने को लेकर मंगलवार को सरकार पर निशाना साधा
महंगाई पर सियासत गर्माई! राहुल का केंद्र पर ताबड़तोड़ अटैक- मोदी अपने मित्रों को ‘फ्री फंड’ में बेच रहे देश की संपत्तियां
 कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने संसद में सत्तापक्ष की ओर से महंगाई होने की बात को खारिज किए जाने को लेकर मंगलवार को सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार आंखों पर अहंकार की पट्टी बांधकर अपने ‘मित्रों’ को भारत की संपत्तियां ‘फ्री फंड’ में बेच रही है। उन्होंने यह दावा भी किया कि देश की जनता परेशान है, लेकिन सरकार एक ‘अहंकारी राजा’ की छवि चमकाने के लिए अरबों रुपये फूंक रही है।
 भाजपा सांसद जयंत सिन्हा ने कहा था कि विपक्ष के लोग .......
राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘अमृतकाल के जश्न में मगन भाजपा सरकार ने सदन में कह दिया कि, देश में महंगाई है ही नहीं। ख़ैर, इन्हें महंगाई दिखाई कैसे देगी? आंखों पर अहंकार की पट्टी बांध कर, 'मित्रों' को 'फ्री फंड' में देश की संपत्ति जो बेच रहे हैं।’’ उल्लेखनीय है कि सोमवार को लोकसभा में नियम 193 के तहत महंगाई पर चर्चा में भाग लेते हुए भाजपा सांसद जयंत सिन्हा ने कहा था कि विपक्ष के लोग महंगाई ढूंढ रहे हैं, लेकिन उन्हें नहीं मिल रही है, क्योंकि महंगाई है नहीं।
भाजपा के ही निशिकांत दुबे ने केंद्र सरकार के कल्याणकारी कदमों का उल्लेख करते हुए कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी 80 करोड़ गरीबों को फ्री फंड का खाना दे रहे हैं। इस पर विपक्ष के सदस्यों ने आपत्ति जताई तो दुबे ने कहा कि अगर आपको दिक्कत है तो यह शब्द हटा लीजिए।
राहुल गांधी का भाजपा पर तीखा वार
राहुल गांधी ने जनता को संबोधित एक फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘खुद को अकेला मत समझना, कांग्रेस आपकी आवाज़ है, और आप कांग्रेस की ताक़त। तानाशाह के हर फ़रमान से, जनता की आवाज़ दबाने की हर कोशिश से हमें लड़ना है। आपके लिए, मैं और कांग्रेस पार्टी लड़ते आ रहे हैं, और आगे भी लड़ेंगे।’’उन्होंने कहा, ‘‘ आज देश में किन मुद्दों पर विचार-विमर्श होना चाहिए, यह आप अच्छे से जानते हैं क्योंकि सरकार की हर ग़लत नीति का असर आपके जीवन पर पड़ रहा है।’’कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘संसद के इस मानसून सत्र में हम सरकार से जनता के सवालों के जवाब मांगना चाह रहे थे, लेकिन आप सब ने देखा कि कैसे सरकार ने विपक्ष के लोगों को निलंबित करवाया, हमारे द्वारा विरोध करने पर हमें गिरफ़्तार करवाया, सदन स्थगित करवाया, और कल जब चर्चा हुई भी तो सरकार ने साफ कहा कि ‘महंगाई जैसी कोई समस्या है ही नहीं’!’’उन्होंने दावा किया, ‘‘देश बेरोज़गारी की महामारी से जूझ रहा है, करोड़ों परिवारों के पास स्थिर आय का कोई साधन नहीं बचा। लेकिन सरकार सिर्फ़ एक 'अहंकारी राजा' की छवि चमकाने में अरबों रुपये फूंक रही है।’’
तानाशाही की सरकार नहीं चलेगी- राहुल गांधी
राहुल गांधी ने कहा, ‘‘महंगाई और ‘गब्बर सिंह टैक्स’ आम आदमी की आय पर सीधा प्रहार है। आज की वास्तविकता यह है कि आम इंसान अपने सपनों के लिए नहीं, बल्कि दो वक्त की रोटी के लिए संघर्ष कर रहा है।’’उन्होंने कहा, ‘‘यह सरकार चाहती है कि आप बिना सवाल किए तानाशाह की हर बात को स्वीकार करें। मैं आप सबको विश्वास दिलाता हूं, इनसे डरने की और तानाशाही सहने की ज़रुरत नहीं है। ये डरपोक हैं, आपकी ताकत और एकता से डरते हैं, इसलिए उसपर लगातार हमला कर रहे हैं। अगर आप एकजुट हो कर इनका सामना करोगे, तो ये डर जाएंगे।’’कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘ मेरा आपसे वादा है, न हम डरेंगे और न इन्हें डराने देंगे।’’

facebook twitter instagram