+

ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ शहरी क्षेत्र के गरीबों को भी मिलेगा रोजगार: तारकिशोर प्रसाद

बिहार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कोरोना संक्रमण से बचाव एवं राहत के लिए बिहार सरकार हर संभव प्रयास कर रही है।
ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ शहरी क्षेत्र के गरीबों को भी मिलेगा रोजगार: तारकिशोर प्रसाद
पटना  : बिहार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कोरोना संक्रमण से बचाव एवं राहत के लिए बिहार सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। इस अवधि में ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में गरीबों एवं जरूरतमंदों को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाने हेतु नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा कार्यक्रम संचालित किए गए हैं।  
उन्होंने कहा कि गरीब जरूरतमंदों को रोजगार के साधन मुहैया कराने हेतु ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामीण विकास विभाग द्वारा मनरेगा के माध्यम से रोजगार सृजन के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं, वहीं शहरी क्षेत्रों में नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा विस्तृत कार्य योजना के तहत कार्यक्रम संचालित किए गए हैं। 
गौरतलब है कि माननीय मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार सृजन एवं लॉकडाउन की अवधि में संचालित सामुदायिक किचेन की व्यवस्था के संबंध में समीक्षा बैठक आयोजित गई, जिसमें विस्तृत दिशा निर्देश दिए गए हैं। उक्त बैठक में उप मुख्यमंत्री  तारकिशोर प्रसाद ने सुझाव देते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन के माध्यम से रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। 
उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में मुख्यमंत्री पक्की गली-नाली निश्चय योजना के क्रियान्वयन में नाला का प्रावधान होना चाहिए। ग्रामीण क्षेत्रों में इस योजना के अंतर्गत सड़कों का तो प्राथमिकता के तौर पर निर्माण किया गया है, लेकिन नाला छुटता चला गया। ग्रामीण क्षेत्रों में सीवरेज के दृष्टिकोण से इसका प्रावधान होना चाहिए।
 साथ ही, उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में इन सड़कों का निर्माण हुआ है, परन्तु उसमें सड़क के दोनों और फ्लैंक नहीं रहने की वजह से सड़कों के टूटने का खतरा बना रहता है तथा दुर्घटना की भी आशंका रहती है। उन्होंने सड़कों के दोनों ओर मनरेगा के माध्यम से मिट्टी डालकर फ्लैंक के निर्माण की आवश्यकता बताई, जिससे सड़कें मजबूत भी रहें एवं लोगों को आवागमन में सुविधा हो सके। 
उन्होंने शहरी निकायों के लिए पंचम राज्य वित्त आयोग की राशि मुहैया कराने की आवश्यकता बताई। बैठक के दौरान चर्चा के क्रम में उन्होंने जमींदारी बांध हेतु समीक्षा का भी सुझाव दिया। उन्होंने कहा कि सरकार कोरोना संक्रमण से राहत और बचाव के लिए अपने स्तर से हर संभव प्रयास कर रही है। हम नागरिकों की सुविधा के लिए हर संभव बेहतर व्यवस्था करने में जुटे हैं। 
उन्होंने कहा कि गरीब, निर्धन, असहायों के लिए लॉकडाउन की अवधि में सामुदायिक किचेन को संचालित किया गया है, ताकि किसी भी जरूरतमंद लोगों को असुविधा नहीं हो। उन्होंने इन केंद्रों पर कोरोना मार्गनिर्देशों का अनुपालन करते हुए समुचित साफ-सफाई तथा सैनिटाइज रखने का निर्देश दिया। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि ऐसे सभी सामुदायिक किचन के विषय में संबंधित क्षेत्रों में वृहद् प्रचार-प्रसार सुनिश्चित कराया जाए, ताकि लोगों को इसकी जानकारी हो सके।
facebook twitter instagram