+

पटना की सड़कों के किनारे 'एक ऐसा परिवार, जो बिहार पर भार' के लगे पोस्टर, लालू परिवार को बनाया निशाना

पटना की सड़कों के किनारे शनिवार को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के परिवार पर तीखा राजनीतिक प्रहार करते हुए एक पोस्टर लगाया गया है, जो चर्चा का विषय बना हुआ है।
पटना की सड़कों के किनारे  'एक ऐसा परिवार, जो बिहार पर भार' के लगे पोस्टर, लालू परिवार को बनाया निशाना
कोरोना संकट के बीच बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए अब तक तारीखों की घोषणा होने से पहले राजनीतिक दलों में आरोप-प्रत्यारोप की बयानबाजी के बीच 'पोस्टर वार' भी प्रारंभ हो गया। पटना की सड़कों के किनारे शनिवार को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद के परिवार पर तीखा राजनीतिक प्रहार करते हुए एक पोस्टर लगाया गया है, जो चर्चा का विषय बना हुआ है। 
पटना की सड़कों के किनारे लगे 'एक ऐसा परिवार, जो बिहार पर भार' शीर्षक से लगे इन पोस्टरों के सबसे ऊपर राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद को बतौर कैदी दिखाया गया है। पोस्टर के निचले हिस्से में तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव की तस्वीर है, जिसे विधायक बताया गया है। निचले हिस्से में ही पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी की तस्वीर है जिन्हें विधानपार्षद और मीसा भारती की तस्वीर पर राज्यसभा सांसद लिखा गया है। 
पोस्टर किसने जारी किया है, इसका कोई उल्लेख पोस्टर में नहीं किया गया है। हालांकि माना जा रहा है कि यह पोस्टर जनता दल (यूनाइटेड) के नेताओं द्वारा लगाया गया है। उल्लेखनीय है कि इस साल के प्रारंभ में भी राजद और जदयू के बीच 'पोस्टर वार' देखा गया था। इस मामले को लेकर राजद नेताओं ने अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है, लेकिन यह तय माना जा रहा है कि विधानसभा चुनाव के पहले पोस्टर वार भी तेज होगा। 

आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद राज्यपाल धनखड़ का ममता पर प्रहार, कहा - राज्य बना अवैध बम बनाने का घर


facebook twitter