+

प्रधानमंत्री को पता था कि योगी कामचोरी वाले मुख्यमंत्री है इसलिए उन्हें पैदल चलने की सजा दी थी : अखिलेश यादव

पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर बुधवार को तंज कसते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री को पता था कि वह (योगी) कामचोरी वाले मुख्यमंत्री है
प्रधानमंत्री को पता था कि योगी कामचोरी वाले मुख्यमंत्री है इसलिए उन्हें पैदल चलने की सजा दी थी : अखिलेश यादव
पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर बुधवार को तंज कसते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री को पता था कि वह (योगी) कामचोरी वाले मुख्यमंत्री है इसलिए उन्हें पैदल चलने की सजा दी थी।
एक्सप्रेस-वे हमारे बाबा योगी का डिजाइन नहीं
गौरतलब है कि 16 नवंबर, 2021 को पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपने सुरक्षाकर्मियों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काफिले के पीछे-पीछे पैदल चलते हुए देखा गया था। इसकी तस्वीरें मीडिया/सोशल मीडिया में आने पर सपा सहित अन्य दलों ने व्यंग्य किया था जबकि इंटरनेट उपयोक्ताओं ने भी इसे मुख्यमंत्री का अपमान बताया था।
काम चोरी वाले मुख्यमंत्री हैं योगी
बुधवार को अपने छोटे भाई की पत्नी अपर्णा यादव के भाजपा में शामिल होने के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में अखिलेश ने पिछले नवंबर की घटना पर चुटकी लेते हुए कहा, ‘‘यह एक्सप्रेस-वे हमारे बाबा योगी का डिजाइन नहीं था, इसलिए प्रधानमंत्री जी को पता था कि जो उनके साथ हैं (मुख्यमंत्री योगी) उन्होंने डिजाइन नहीं किया है। यह ‘काम चोरी वाले मुख्यमंत्री हैं, इसलिए उन्हें सजा देने के लिए पैदल-पैदल चलाया।
एक्सप्रेस-वे का डिजाइन सपा का था 
इस दौरान सैन्य स्कूल में अपनी शिक्षा और उन दिनों के बारे में देर तक चर्चा करते हुए अखिलेश ने कहा, यह समाजवादी पार्टी की सरकार थी जिसने एक्सप्रेस-वे को डिजाइन किया था। उसी ने वायुसेना के साथ करार किया था, जिसके तहत मिराज और सुखोई लड़ाकू विमान एक्सप्रेस-वे पर उतरे थे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अखिलेश यादव नीत सरकार के कार्यकाल में आगरा एक्सप्रेस-वे का निर्माण हुआ था।
एक्सप्रेस-वे के पास एक रन-वे भी हो जहां लड़ाकू विमान उतर सकें
सपा अध्यक्ष ने व्यंग्य भरे स्वर में कहा कि समाजवादी सरकार ने अगर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे डिजाइन नहीं किया होता तो प्रधानमंत्री हवाई जहाज से एक्सप्रेस-वे पर उतर नहीं सकते थे। उन्होंने कहा, ‘‘समाजवादियों और सपा का दृष्टिकोण था कि एक्सप्रेस-वे को इस तरह से डिजाइन किया जाना चाहिए कि उनके पास एक रन-वे भी हो जहां लड़ाकू विमान उतर सकें। इसका परिणाम यह हुआ कि प्रधानमंत्री जब उतरे तो समाजवादियों के डिजाइन किये हुए एक्सप्रेस-वे पर उतरे।
जितनी देश की समृद्धि जरूरी है, उतनी ही देश की सुरक्षा भी
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवंबर में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करने के बाद उसे देश की सुरक्षा के साथ जोड़ा था। उन्होंने कहा था, ‘‘जितनी देश की समृद्धि जरूरी है, उतनी ही देश की सुरक्षा भी। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे इमरजेंसी के समय हमारी सेना के लिए एक बड़ी ताकत बनेगा। इससे पूर्व, मोदी एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करने के लिए भारतीय वायुसेना के सी-130 हरक्यूलिस विमान से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे की हवाई पट्टी पर उतरे थे।
facebook twitter instagram