+

'सेना दिवस' के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति कोविंद ने सैनिकों को किया नमन

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शुक्रवार को सेना दिवस के अवसर पर देश के सैनिकों को बधाई दी।
'सेना दिवस' के मौके पर प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति कोविंद ने सैनिकों को किया नमन
देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शुक्रवार को सेना दिवस के अवसर पर देश के सैनिकों को बधाई दी और कहा कि सशक्त, साहसी और संकल्पबद्ध सेना ने हमेशा राष्ट्र का सिर गर्व से ऊंचा किया है। पीएम मोदी ने 73वें सेना दिवस के अवसर पर ट्वीट कर कहा, ‘‘मां भारती की रक्षा में पल-पल मुस्तैद देश के पराक्रमी सैनिकों और उनके परिजनों को सेना दिवस की हार्दिक बधाई। हमारी सेना सशक्त, साहसी और संकल्पबद्ध है, जिसने हमेशा देश का सिर गर्व से ऊंचा किया है। समस्त देशवासियों की ओर से भारतीय सेना को मेरा नमन।’’


वर्ष 1949 में आज ही के दिन भारत के अंतिम ब्रिटिश कमांडर-इन-चीफ जनरल फ्रांसिस बुचर के स्थान पर तत्कालीन लेफ्टिनेंट जनरल के एम करियप्पा भारतीय सेना के कमांडर इन चीफ बने थे। इसीलिए हर साल 15 जनवरी को सेना दिवस मनाया जाता है। सेना दिवस के अवसर पर पूरा देश थल सेना की वीरता, अदम्य साहस, शौर्य और उसकी कुर्बानी को याद करता है। प्रधानमंत्री के साथ ही राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने भारतीय सेना दिवस के अवसर पर सैनिकों को बधाई दी और कहा कि देश हमेशा साहसी एवं प्रतिबद्ध सैनिकों, सेना के सेवानिवृत्त जवानों एवं उनके परिवारों का आभारी रहेगा।
राष्ट्रपति कोविंद ने 73वें सेना दिवस पर ट्वीट किया,‘‘सेना दिवस पर, भारतीय सेना के सभी बहादुर पुरुषों और महिलाओं को बधाई। हम उन बहादुरों को याद करते हैं जिन्होंने राष्ट्र की सेवा में सर्वोच्च बलिदान दिया। भारत साहसी एवं प्रतिबद्ध सैनिकों, सेवानिवृत्त जवानों और उनके परिवारों का सदा आभारी रहेगा।’’ वर्ष 1949 में आज ही के दिन भारत के अंतिम ब्रिटिश कमांडर-इन-चीफ जनरल फ्रांसिस बुचर के स्थान पर तत्कालीन लेफ्टिनेंट जनरल के. एम. करियप्पा भारतीय सेना के कमांडर इन चीफ बने थे। इसीलिए हर साल 15 जनवरी को सेना दिवस मनाया जाता है।

facebook twitter instagram