प्रियंका गांधी ने CM योगी को लिखा पत्र, कहा-कांग्रेस राज्य सरकार की हरसंभव मदद के लिए तैयार

01:02 PM Apr 10, 2020 | Pinki Nayak
उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस (कोविड-19) के अब तक 427 पहुंच गई है। राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमित जिलों की पहचान करके 15 जिलों के चुनिंदा इलाकों को सील कर दिया है। वहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कोरोना प्रसार को रोकने के लिए सुझाव दिया है।
इसके साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री से कोरोना से जुड़ी अफवाहों एवं गलत धारणाओं के फैलने पर तत्काल रोक लगाने और लोगों को मास्क एवं सैनिटाइजर उपलब्ध कराने के साथ बड़े पैमाने पर चिकित्सा जांच करने का आग्रह किया है। पत्र में उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में कांग्रेस, सरकार की हरसंभव मदद के लिए तैयार है। 
प्रियंका ने कहा, ''संक्रमण को रोकने के लिए स्क्रीनिंग और जांच की संख्या को बढ़ाना एक कारगर उपाय है।" उन्होंने कहा कि छह करोड़ की आबादी वाले देश दक्षिण कोरिया ने हर 1,000 लोगों पर करीब 6 लोगों की जांच की और वायरस के संक्रमण को रोकने में सफलता हासिल की है। राजस्थान के भीलवाड़ा में 9 दिनों के भीतर 24 लाख लोगों की स्क्रीनिंग करके ज्यादा से ज्यादा जांच की गईं और संक्रमित लोगों की पहचान की गई। 
कांग्रेस महासचिव ने कहा, ''ऐसी कई खबरें आ रही हैं कि संक्रमित व्यक्ति अपनी बीमारी छुपाने की भी कोशिश कर रहे हैं। यह कोरोना के बारे में फैले सामाजिक भय के चलते हो रहा है। ऐसे में युद्धस्तर पर सही सूचना दी जाए और अफ़वाहों व गलत धारणाओं के फैलने पर तत्काल रोक लगे।'' उन्होंने पत्र में लिखा है कि सरकार ने मास्क पहनना अनिवार्य घोषित किया है। ऐसे में मास्क व सैनिटाइजर का युद्धस्तर पर वितरण सुनिश्चित किया जाए। 
प्रियंका ने कहा, '' उत्तर प्रदेश की जनसंख्या लगभग 23 करोड़ है जबकि जांच के लिए गए नमूनों की संख्या केवल 7000 के आसपास है। आबादी के हिसाब से प्रदेश में हो रही जांच की संख्या अभी बहुत कम है। जांच को तेज गति से बढ़ाना आवश्यक है।" उनके मुताबिक जांच की संख्या बढ़ाने से आईसीयू पर कम से कम दबाव पड़ेगा। साथ ही अपने ‘आइसोलेशन वार्ड और क्वारंटीन सेंटर्स’ को मानवीय गरिमा के अनुरूप बनाना पड़ेगा। 


Related Stories: