+

सरकारी नौकरियों को लेकर प्रियंका का वार- अपना हक मांगने के लिए सड़कों पर उतर चुके हैं युवा

प्रियंका ने कहा “वाह री सरकार, पहले तो नौकरी ही नहीं दोगे। जिसको मिलेगी उसको 30-35 से पहले नहीं मिलेगी। फिर उस पर 5 साल अपमान वाली संविदा की बंधुआ मजदूरी और अब कई जगहों पर 50 वर्ष पर ही रिटायर की योजना।"
सरकारी नौकरियों को लेकर प्रियंका का वार- अपना हक मांगने के लिए सड़कों पर उतर चुके हैं युवा
कांग्रेस के महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा लगातार योगी सरकार पर हमलावर हैं। इस बीच प्रियंका ने सरकारी नौकरी के पहले पांच साल संविदा पर रखे जाने के संभावित प्रस्ताव का विरोध करते हुए बुधवार को लगातार दूसरे दिन योगी सरकार पर हमला जारी रखा।
प्रियंका ने ट्वीट किया “वाह री सरकार, पहले तो नौकरी ही नहीं दोगे। जिसको मिलेगी उसको 30-35 से पहले नहीं मिलेगी। फिर उस पर 5 साल अपमान वाली संविदा की बंधुआ मजदूरी और अब कई जगहों पर 50 वर्ष पर ही रिटायर की योजना। युवा सब समझ चुका है। अपना हक मांगने वो सड़कों पर उतर चुका है।
वहीं इससे पहले मंगलवार को प्रियंका ने कहा था कि ‘‘ संविदा का मतलब नौकरियों से सम्मान विदा। 5 साल की संविदा का मतलब युवा अपमान कानून। माननीय सर्वोच्च न्यायालय ने पहले भी इस तरह के कानून पर अपनी तीखी टिप्पणी की है।’’ कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका ने कहा, ‘‘इस व्यवस्था को लाने का उद्देश्य क्या है? सरकार युवाओं के दर्द पर मरहम न लगाकर दर्द बढ़ाने की योजना ला रही है।’’
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में सरकारी नौकरियों में पहले पांच साल संविदा पर रखे जाने की योजना संभावित है हालांकि सरकार इस संबंध में अभी कोई प्रस्ताव नहीं लायी है लेकिन विपक्ष ने इस प्रस्ताव को लेकर सरकार की घेराबंदी तेज कर दी है। कांग्रेस के अलावा समाजवादी पार्टी (सपा) और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) इस सिलसिले में खुल कर सरकार के सामने आ गयी है।

UP विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारी में जुटी कांग्रेस, चुनावी घोषणा पत्र बनाने को लेकर मजबूत रणनीति तैयार 


facebook twitter