+

पंजाब ने 125 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद कर किसानों को 21,472 करोड़ रूपए का किया भुगतान

कोरोना महामारी के बीच पंजाब ने अब तक 125 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं (एमटी) गेहूं खरीदा है और किसानों को 21,472 करोड़ रूपए का भुगतान किया है। इसकी जानकारी मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने को दी।
पंजाब ने 125 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद कर किसानों को 21,472 करोड़ रूपए का किया भुगतान
कोरोना महामारी के बीच पंजाब ने अब तक 125 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं (एमटी) गेहूं खरीदा है और किसानों को 21,472 करोड़ रूपए का भुगतान किया है। इसकी जानकारी मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को दी। मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट में बताया कि मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि कोविड की चुनौती के बावजूद, हमने अब तक 125 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद की है और अपने किसानों को 21,472 करोड़ रूपए का भुगतान किया है।


हमारी खरीद एजेंसियां समय पर खरीद और भुगतान सुनिश्चित करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं। मैं आपकी कड़ी मेहनत के लिए आप सभी का धन्यवाद करता हूं। सुरक्षित रहें। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने पंजाब में गेहूं की खरीद के लिए अप्रैल तक कैश क्रेडिट लिमिट (सीसीएल) की 21,658.73 करोड़ रूपए  की मंजूरी दी है। 
सीसीएल की रिहाई से किसानों को चालू सीजन में खाद्यान्नों की खरीद के लिए भुगतान करने में राज्य को सुविधा होती है, जो 10 अप्रैल को शुरू हुआ और 31 मई को समाप्त होगा। केंद्र सरकार ने गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) 1,975 रूपए  प्रति क्विंटल तय किया है, इसे पिछले साल के 1,925 रूपए  प्रति क्विंटल से 50 रूपए  बढ़ा दिया है।

facebook twitter instagram