+

पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर रूस के राष्ट्रपति पुतिन और बंगलादेश की PM शेख हसीना ने जताया दुख

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर बंगलादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, राष्ट्रपति अब्दुल हनीद और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गहरा दुख व्यक्त किया।
पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के निधन पर रूस के राष्ट्रपति पुतिन और बंगलादेश की PM शेख हसीना ने जताया दुख
भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर बंगलादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना, राष्ट्रपति अब्दुल हनीद और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गहरा दुख व्यक्त किया। बंगलादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने अपने शोक सन्देश में दोनों पडोसी देशों के बीच आपसी संबंधों को और बेहतर करने के लिए मुखर्जी के योगदान को याद किया। 
हसीना और हनीद ने दिवंगत आत्मा की शाश्वत शांति के लिए प्रार्थना की और शोक संतप्त परिवार के प्रति गहन सहानुभूति व्यक्त की।  मुखर्जी का सोमवार शाम को 84 वर्ष की आयु में निधन हो गया। पुतिन ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टेलीग्राम कर कहा कि मुखर्जी ने अपने हमवतन और उच्च अंतरराष्ट्रीय प्राधिकरण का सम्मान प्राप्त किया। 
 पुतिन ने प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति कोविंद को भेजे अपने शोक सन्देश ने कहा, 'पूर्व राष्ट्रपति प्रणव कुमार मुखर्जी के निधन पर मेरी गहरी संवेदना स्वीकार करें। राष्ट्रपति और अन्य सरकारी पदों के तौर पर काम करते हुए मुखर्जी ने अपने हमवतन और उच्च अंतरराष्ट्रीय प्राधिकरण से उचित सम्मान अर्जित किया।' राष्ट्रपति ने कहा, 'रूस का सच्चे दोस्त होने के नाते मुखर्जी ने भारत और रूस के बीच विशेष रूप से रणनीतिक साझेदारी संबंधों को मजबूत करने में महत्वपूर्ण व्यक्तिगत योगदान दिया।' 
पुतिन ने दिवंगत राष्ट्रपति के परिवार और भारतीय लोगों के प्रति भी अपनी संवेदना व्यक्त की। पूर्व राष्ट्रपति को गत 10 अगस्त को आर आर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां उनके मस्तिष्क में खून का थक्का जमा होने का पता चला जिसके बाद उनका ऑपरेशन किया गया था। बाद में उनके फेफड़े में संक्रमण हो गया और गुर्दे में भी गड़बड़ हो गयी जिसके बाद सोमवार को उनका निधन हो गया।

facebook twitter