+

राखी के त्योहार पर गली-मोहल्लों के साथ-साथ जेलों में भी उत्सव का माहौल आया नजर

राखी के त्योहार पर गली-मोहल्लों के साथ-साथ राजस्थान की जेलों में भी उत्सव का माहौल नजर आया, जहां अनेक महिलाएं व युवतियां अपने भाइयों को राखी बांधने पहुंचीं।
राखी के त्योहार पर गली-मोहल्लों के साथ-साथ जेलों में भी उत्सव का माहौल आया नजर
राखी के त्योहार पर गली-मोहल्लों के साथ-साथ राजस्थान की जेलों में भी उत्सव का माहौल नजर आया, जहां अनेक महिलाएं व युवतियां अपने भाइयों को राखी बांधने पहुंचीं।
राजधानी जयपुर की केंद्रीय व जिला जेल में 750 बहनों ने अपने भाइयों को राखी बांधी जबकि धौलपुर जिला जेल में यह संख्या 200 रही।
अधिकारियों ने कहा कि राज्‍य की अन्‍य जिला व केंद्रीय जेलों में भी रक्षाबंधन पर चहल-पहल रही और बड़ी संख्या में महिलाएं वहां बंद अपने भाइयों को रक्षासूत्र बांधने पहुंचीं।
उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी के चलते दो साल बाद जेलों में रक्षाबंधन मनाने की अनुमति दी गई है।
जयपुर केंद्रीय जेल अधीक्षक राकेश मोहन ने बताया कि रक्षाबंधन पर बृहस्पतिवार को कोरोना प्रोटोकॉल के तहत करीब 600 बंदियों को बहनों ने राखी बांधी। उन्होंने कहा कि दो साल के बाद जेल में बंदियों को राखी बांधने के बाद बहनों में खुशी की लहर रही।
जयपुर जिला जेल अधीक्षक शिवेन शर्मा ने बताया कि शाम पांच बजे तक कोरोना प्रोटोकॉल के तहत करीब 150 बंदियों को बहनों ने राखी बांधी।
वहीं, धौलपुर के जिला जेल अधीक्षक रामअवतार शर्मा के मुताबिक, आज करीब 200 कैदियों को राखी बांधी गई।
इस बीच, मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत सहित अन्‍य नेताओं ने रक्षाबंधन पर लोगों को शुभकामनाएं दीं।
गहलोत ने ट्वीट किया, ‘‘रक्षाबंधन के पावन पर्व पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं। रक्षाबंधन का पवित्र त्यौहार भाई-बहन के एक-दूसरे के प्रति स्नेह, विश्वास और कर्तव्य का प्रतीक है। यह पर्व सामाजिक सद्भाव के साथ ही महिलाओं के प्रति आदर एवं सुरक्षा की भावना को भी सुदृढ़ बनाता है।’’
उन्‍होंने लिखा, ‘‘इस अवसर पर प्रदेशवासियों का आह्वान है कि हम सब मिलकर महिलाओं के सशक्तिकरण और उनकी प्रगति के लिए एक आदर्श समाज का निर्माण करें। राज्य सरकार महिलाओं की सुरक्षा, शिक्षा, स्वास्थ्य और समृद्धि के लिए प्रतिबद्ध है एवं उनके कल्याण के लिए कई योजनाएं व कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।’’
उल्लेखनीय है कि राज्‍य सरकार ने रक्षाबंधन पर महिलाओं व बच्चियों के लिए राजस्‍थान रोडवेज तथा जयपुर सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड (जेसीटीएसएल) द्वारा संचालित बसों में निशुल्क यात्रा की सुविधा देने की घोषणा की थी।
facebook twitter instagram