राजस्थान: CM गहलोत ने बाल विवाह रुकवाने का दिया आदेश

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे टोंक जिले में 15 वर्षीय बालिका का बाल विवाह रुकवाएं। यहां मुख्यमंत्री निवास पर सोमवार को जनसुनवाई के दौरान यह बच्ची अपने चाचा के साथ मुख्यमंत्री से मिली और उन्हें बताया कि उसकी मां की मृत्यु हो चुकी है और पिता उसका बाल विवाह कराना चाहते हैं। गहलोत ने निर्देश दिया कि उसका बाल विवाह रोका जाए।

उपचुनाव LIVE : धर्मशाला में 3:00 बजे तक 52.18% हुई वोटिंग, एर्नाकुलम में भारी बारिश से मतदान प्रभावित

इस पर अधिकारियों ने टोंक जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक को अवगत कराकर बाल विवाह रोकने के लिए कार्रवाई करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने बालिका से मन लगाकर पढ़ाई करने को कहा और भरोसा दिया कि सरकार उसकी पूरी मदद करेगी। इस दौरान अधिकारियों ने बताया कि यदि वह चाहे तो शारदा बालिका आवासीय विद्यालय में उसे निशुल्क आवासीय शिक्षा दी जा सकती है। गहलोत ने राज्य के विभिन्न हिस्सों से आए लोगों की समस्याएं सुनी। 

Tags : भारतीय जनता पार्टी,Bharatiya Janata Party,गुजरात,Gujarat,उना कांड,विधायक प्रदीप परमार,Una Kand,MLA Pradeep Parmar ,CM Gehlot,Rajasthan,Ashok Gehlot,Tonk district