+

Rajnath Singh : रक्षा मंत्री ने ‘भूमि के स्पष्ट मालिकाना हक’ के महत्व को समझने की अपील की

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को संबंधित राज्यों और केंद्र सरकार से नए विनिर्माण केंद्रों की स्थापना के लिए ‘भूमि के स्पष्ट मालिकाना हक’ के महत्व को समझने की अपील की है।
Rajnath Singh : रक्षा मंत्री ने ‘भूमि के स्पष्ट मालिकाना हक’ के महत्व को समझने की अपील की
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को संबंधित राज्यों और केंद्र सरकार से नए विनिर्माण केंद्रों की स्थापना के लिए ‘भूमि के स्पष्ट मालिकाना हक’ के महत्व को समझने की अपील की है।उन्होंने एक कार्यक्रम में अपने सम्बोधन में कहा कि भारत के लिए वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनने के लिए भूखंड का ‘पूर्णतया सुरक्षित प्रबंधन’ महत्वपूर्ण है।उन्होंने कहा, ‘‘अगर भारत विनिर्माण केंद्र बनना चाहता है, कारोबार और निवेश आकर्षित करना चाहता है, तो जमीन का मालिकाना हक एक महत्वपूर्ण आवश्यकता है।’’
भूमि जैसे संसाधनों के प्रभावी और विवेकपूर्ण प्रबंधन की आवश्यकता है - रक्षा मंत्री 
रक्षा मंत्री सेंटर ऑफ एक्सेलेंस फॉर सेटेलाइट एंड अनमैंड रिमोट व्हीकल इनिशिएटिव (सीओई-सर्वे) के लिए उत्कृष्टता केंद्र द्वारा विकसित भौगोलिक सूचना प्रणाली (जीआईएस)- आधारित अनुप्रयोगों के इस्तेमाल से संबंधित एक संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे।सीओई-सर्वे की स्थापना भूमि सर्वेक्षण, डेटा के विश्लेषण और भूमि प्रबंधन में उभरती प्रौद्योगिकियों के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए रक्षा संपदा महानिदेशालय (डीजीडीई) द्वारा की गई है।
रक्षा मंत्रालय के अनुसार, सिंह ने केंद्र और राज्य सरकार के विभागों से भारत को वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनने के लिए भूमि का पूर्ण प्रबंधन सुनिश्चित करने का आह्वान किया।सिंह ने कहा कि वैश्विक जनसंख्या बढ़ रही है और संसाधनों की मांग भी बढ़ रही है और ऐसे में भूमि जैसे संसाधनों के प्रभावी और विवेकपूर्ण प्रबंधन की आवश्यकता है।
facebook twitter instagram