रामनाथ कोविंद ने शांति, सौहार्द्र के माहौल के लिये सिक्किम की सराहना की

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सिक्किम में शांति एवं सौहार्द्र के माहौल की सराहना की, जहां लोग विभिन्न धर्मों का शांतिपूर्वक अनुपालन करते हैं और एक दूसरे के त्यौहारों में शामिल होते हैं। राष्ट्रपति ने यहां सिक्किम विश्वविद्यालय के पांचवें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘यह जानना अच्छा है कि सिक्किम में सभी धर्मों के लोग शांति एवं सौहार्द्र के साथ रहते हैं और पूरे उत्साह के साथ एक दूसरे के त्यौहारों में शामिल होते हैं...उन्होंने (सिक्किम के लोगों के) सौहार्द्र के साथ रहने और एक दूसरे से घुलने-मिलने का भारत के अन्य हिस्सों के लोगों के लिये एक बेहतरीन उदाहरण पेश किया है।’’ 

कोविंद ने देश-विदेश के लोगों के लिये सिक्किम के एक पर्यटन गंतव्य के रूप में इस कदर उभरने को लेकर भी राज्य की सराहना की कि उसे ‘पूर्व के स्विटजरलैंड’ के रूप में जाना जाता है। राष्ट्रपति ने पर्यटकों के फायदे के लिये पर्यटन से जुड़े बुनियादी ढांचे के विकास पर ध्यान केंद्रित करने का मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग से अनुरोध किया। 

उन्होंने इस बात का जिक्र किया कि सिक्किम 2018 के स्वच्छता सूचकांक में छठे स्थान पर रहा। उन्होंने कहा कि इसके लिये राज्य के राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री सराहना के हकदार हैं। कोविंद ने विश्वविद्यालय के 11 छात्रों को स्वर्ण पदक और प्रमाणपत्र भी दिये। 

राष्ट्रपति ने लींबू, लेपचा, भूटिया और कई अन्य भाषाओं की शिक्षा उपलब्ध कराने को लेकर ‘विलुप्तप्राय भाषाओं के एक लिये केंद्र’ स्थापित करने को लेकर विश्वविद्यालय की सराहना की। 
Tags : Narendra Modi,कांग्रेस,Congress,नरेंद्र मोदी,राहुल गांधी,Rahul Gandhi,punjabkesri ,Sikkim,Ramnath Kovind,President,Prem Singh Tamang