जम्मू कश्मीर में चरणबद्ध तरीके से पाबंदियों में दी जा रही ढील : गृह मंत्रालय

जम्मू कश्मीर में लोगों की आवाजाही और संचार संपर्क पर लगाई गई पाबंदियों में चरणबद्ध तरीके से ढील दी जा रही है, जबकि जम्मू को श्रीनगर से जोड़ने वाले राजमार्ग पर सामान्य रूप से वाहनों का आवागमन हो रहा है। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने मंगलवार को यह कहा। 

जम्मू कश्मीर प्रशासन के एक बयान को उद्धृत करते हुए गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि कश्मीर घाटी से उड़ानों का परिचालन सामान्य रूप से हो रहा है और करीब 1500 हल्के (एलएमवी) एवं अन्य वाहन राजमार्ग से रोजाना सुगमता से गुजर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘जम्मू कश्मीर में लगाई गई पाबंदियों में घाटी में चरणबद्ध तरीके से ढील दी जा रही है और जम्मू संभाग में संबद्ध स्थानीय अधिकारियों के आकलन के बाद (पूर्व) स्थिति बहाल हो गई है।’’ लोगों को निर्बाध रूप से मेडिकल सेवाएं मुहैया की जा रही हैं। 

प्रवक्ता ने बताया कि श्रीनगर के विभिन्न अस्पतालों में बाह्य रोगी विभागों (ओपीडी) के जरिये 13,500 रोगियों को जरूरी इलाज मुहैया किया गया है। जीवन रक्षक दवाइयां सहित सभी दवाइयों की उपलब्धता कश्मीर घाटी के हर अस्पताल में सुनिश्चित की गई है। रसोई गैस सिलेंडर और अन्य आवश्यक वस्तुएं ढोने वाले करीब 100 से अधिक भारी वाहन राष्ट्रीय राजमार्ग से रोजाना गुजर रहे हैं। 

स्वतंत्रता दिवस समारोहों के लिए जम्मू कश्मीर के प्रत्येक जिले में ‘फुल ड्रेस रिहर्सल’ किया गया है और इसे सुगमता से पूरा करने के लिए आवश्यक इंतजाम किये गए। गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को रद्द करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने संबंधी केंद्र के पांच अगस्त के फैसले के बाद राज्य में सुरक्षा कारणों को लेकर कई पाबंदियां लगा दी गई थी। 
Download our app
×